Hero's of 2018 : बदमाशों के सामने हिम्मत नहीं दिखाता तो मैं दुनिया में नहीं होता

Hero's of 2018 : बदमाशों के सामने हिम्मत नहीं दिखाता तो मैं दुनिया में नहीं होता

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Dec, 31 2018 12:50:22 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

हिम्मत नहीं हारा : प्लायवुड व्यापारी मंतोष तिवारी और उनकी पत्नी ने बदमाशों से घिरे होने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी। उन्होंने बदमाशों का पीछा कर उन्हे पकड़ा।

इंदौर. उस दिन हिम्मत नहीं दिखाता तो मैं आज दुनिया में नहीं होता। यह कहना है एरोड्रम क्षेत्र में रहने वाले प्लायवुड व्यापारी का। 15 दिसंबर की रात पत्नी आरती के साथ कार से जा रहे मंतोष तिवारी ने खुद के साथ हुई लूट की वारदात को याद करते हुए बताया, बाइक सवार तीन बदमाश उनकी कार को घेरने लगे। झूमाझटकी के बाद उनसे बदमाश ने पर्स व मंगलसूत्र लूट लिया। घटना से मन उदास हुआ, लेकिन कार में बैठी पत्नी ने साथ दिया। कुछ ही देर में उन्होंने बदमाश का कार से पीछा किया। फिर उनकी बाइक को पीछे से टक्कर मारकर गिरा दिया। वह मंजर याद कर तिवारी बोले, विषम परिस्थिति में पत्नी मेरे साथ थीं। उन्हीं की वजह से बदमाशों को पकडऩे में कामयाब रहा। घटना के बाद से मेरी हिम्मत खुली है। भविष्य में फिर एेसी परिस्थिति सामने आने पर डटकर सामना करूंगा। बदमाशों को पकडऩे के पहले में यदि मैं निराश होकर वहीं खड़ा रहता तो शायद वो शहर में किसी न किसी से लूट कर रहे होते। मेरी पत्नी बहुत हिम्मत वाली हैं। शहर में इस तरह के अपराध घट रहे हैं। यदि लोग एेसी परिस्थिति में दिमाग से काम लें तो बदमाशों को पकडऩा आसान होगा। इस तरह के बढ़ते अपराधों में कमी लाई जा सकती है। हर किसी को इस तरह का प्रयास करना चाहिए, जिससे शहर में डर फैला रहे गुंडों को सबक मिले।
(जैसा कि मंतोष तिवारी ने कृष्णपाल सिंह चौहान को बताया)

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned