प्लेटफॉर्म एक व दो के बीच बनेगी स्टेबलिंग लाइन

प्लेटफॉर्म एक व दो के बीच बनेगी स्टेबलिंग लाइन

Arjun Richhariya | Publish: Feb, 05 2018 09:20:07 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

रतलाम से मथुरा के बीच वर्तमान में चलाई जा रही डेमू ट्रेन का रैक 9 फरवरी को खाली हो जाएगा। उसके रैक से रतलाम से महू के बीच नई डेमू ट्रेन चलाई जा सकती ह

इंदौर. रतलाम से मथुरा के बीच वर्तमान में चलाई जा रही डेमू ट्रेन का रैक 9 फरवरी को खाली हो जाएगा। उसके रैक से रतलाम से महू के बीच नई डेमू ट्रेन चलाई जा सकती है। इसके लिए रतलाम मंडल की ओर से रेलवे मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा दिया गया है। इसके साथ ही इंदौर रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म एक और दो के बीच पहले जहां बगीचा बनाया जाना प्रस्तावित था। उसी स्थान पर अब एक स्टेबलिंग लाइन बनाई जाएगी।

यहां पर इंजन या फिर कम कोच की ट्रेनों को खड़ा किया जा सकेगा। यह बात रतलाम रेल मंडल के डीआरएम आरएन सुनकर ने रविवार को अपने एक दिनी निरीक्षण के दौरान कहीं। वे यहां यात्री सुविधाओं को बढ़ाए जाने को लेकर निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने रेलवे कर्मचारियों से बातचीत भी की। इस दौरान डीआरएम ने प्लेटफार्म नं. 4 से लेकर एक तक का दौरा किया। वे स्टेशन के बाहरी हिस्से को देखने भी पहुंचे। इस दौरान जीआरपी थाने की जानकारी लेने के साथ ही स्टेशन भवन के जर्जर हिस्से भी देखे।

किसी भी दिन शुरू होगा एस्केलेटर

डीआरएम ने चर्चा में बताया कि नए आईलैंड स्टेशन पर किसी भी दिन एस्केलेटर शुरू कर दिए जाएंगे। फिल्हाल कार्य अंतिम चरण में है व टेस्टिंग किए जाने के बाद इसे आम यात्रियों के लिए शुरू किया जाएंगे। इसके अलावा दो नंबर प्लेटफार्म पर गार्डन हटाकर रेलवे ट्रेक बनाया जा रहा है। यहां पर छोटे लोको व ट्रेनों को रखा जाएगा। महू में एक ही प्लेटफार्म है। वहां दो ट्रैक बनाए गए है। रक्षा विभाग से जो जमीन चाहिए थी, वह हमें मिल चुकी है लेकिन जमीन हस्तांतरण को लेकर रेलवे मंत्रालय द्वारा प्रस्ताव भेजा जाएगा।

फतेहाबाद-उज्जैन गेज कन्वर्जन को लेकर हमारी तैयारी पूरी हो चुकी है। मीटरगेज लाइन हटा दी गई है। इसके अलावा अन्य तकनीकी कार्यों के साथ स्टेशन यार्ड के लिए भी जगह सुनिश्चित कर दी गई है। जल्द ही इसके कार्य का शुभारंभ करवाया जाएगा। नए क्यू ट्रेक पर गाडि़यां बढ़ाने के लिए संरक्षा से जुड़े कार्य चल रहे हैं। जल्द ही सीआरएस (कमिश्नर, रेलवे सेफ्टी) से स्वीकृति मिलने के बाद अन्य गाडि़यों को इस मार्ग से जोड़ा जाएगा।

वर्षों से जमे स्टॉफ को हटाएंगे
पार्सल विभाग में वर्षोँ से जमे स्टॉफ को हटाने को लेकर भी डीआरएम ने जल्द ही फेरबदल किए जाने के संकेत दिए है। डीआरएम ने कहा सभी विभागों की मॉनिटरिंग की जा रही है। रोटेशन को लेकर जल्द ही कार्रवाई की जाएगी, जो लंबे समय से एक ही स्थान पर कार्यरत हैं, उन्हें बदला जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned