अंतरराष्ट्रीय स्तर के मानक पर तैयार है बौनमेरो सेंटर

अंतरराष्ट्रीय स्तर के मानक पर तैयार है बौनमेरो सेंटर

amit mandloi | Publish: Jan, 14 2018 05:04:07 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

इटली से आए डॉ. फॉकनर ने किया दौरा, अब डॉक्टर सहित अन्य स्टॉफ को ट्रेनिंग के लिए भेजा जाएगा अलग-अलग शहर, इटली से आए डॉ. फॉकनर ने किया दौरा

इंदौर। एमवायएच में तैयार हुए बोनमैरो सेंटर को विश्वस्तरीय मान्यता देने के लिए इटली से आए डॉ. लारेंस फॉकनर शनिवार को एमवायएच पहुंचे। यहां उन्होंने बोनमैरो सेंटर का दौरा करने के साथ ही यहां की व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। उनके साथ बेंगलुरू में विश्वस्तरीय बोनमैरो सेंटर के संस्थापक डॉ. ललित परमार भी मौजूद रहे। डॉ. फॉकनर के निर्देश में भारत में कई बड़े शहरों जैसे बेंगलुरू, अहमदाबाद में बोनमैरो सेंटर की स्थापना की गई है। इंदौर में ही डॉ. परमार के जरिए उनके निर्देशन में ही सेंटर का निर्माण किया गया है। इस तरह इंदौर में भी विश्वस्तरीय मानकों के आधार पर बोनमैरो सेंटर बनाया गया है। डॉ. फॉकनर ने सेंटर का दौरा कर सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. शरद थोरा व अधीक्षक डॉ. वीएस पाल सहित नवनिर्मित सेंटर की कोर टीम के अन्य सदस्य भी उपस्थित थे। इसमें ब्लड बैंक, पैथॉलोजी, कैंसर हॉस्पिटल, एनेस्थिसिया विभाग, पीडियाट्रिक सर्जरी, माइक्रोबॉयलॉजी, फॉर्मेकोलॉजी, बॉयो कैमेस्ट्री आदि विभागों के प्रमुख भी शामिल हुए।


संक्रमण से बचाना असल चुनौती

यहां यूनिट के संचालन के साथ ही व्यवस्थाओं को लेकर भी जानकारी लेने के साथ ही डॉ. फॉकनर द्वारा मार्गदर्शन दिया गया। उन्होंने बताया कि यूनिट के निर्माण व संचालन से ज्यादा चुनौती पूर्ण यूनिट में भर्ती मरीजों को संक्रमण से बचाना होता है। एेसे मरीजों का बोनमेरो करने से पूर्व रोग प्रतिरोधक क्षमता को शून्य कर दिया जाता है। एेसे में उन्हें संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा रहता है। खास बात यह है कि उन्हें संक्रमण यूनिट में कार्यरत डॉक्टर, नर्सिंग स्टॉफ सहित चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की मौजूदगी की वजह से होता है। एेसे में उन्हें संक्रमण से बचाने के लिए विशेष सतर्कता बरता अनिवार्य है। उन्होंने इस दौरान इंफेक्शन कंट्रोल, ब्लड रेडियेशन जैसे अहम पहलुओं पर विश्वस्तरीय उपचार तरीकों को लेकर जानकारी दी। अधीक्षक डॉ. पाल ने बताया कि जल्द ही डॉक्टर, नर्स सहित अन्य स्टॉफ को दिल्ली, अहमदाबाद, बेंगलुरु के बोनमेरो सेंटर में ट्रेनिंग के लिए भेजा जाएगा। डीन डॉ. थोरा ने बताया कि डॉ. फॉकनर की संभागायुक्त संजय दूबे से भी मुलाकात करने पहुंचे।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned