scriptMalwa's light, renewable energy dissolved in Fiza | मालवा का जलवा, फिजा में घुली अक्षय ऊर्जा! | Patrika News

मालवा का जलवा, फिजा में घुली अक्षय ऊर्जा!

- सस्ती बिजली और अतिरिक्त आमदनी का जरिया
- होगा दोहरा लाभ, भविष्य में मिल सकेगा कार्बन क्रेडिट

इंदौर

Published: August 10, 2022 11:33:30 pm

इंदौर। मालवा की धरा ही नहीं, उसकी फिजा भी नई संभावनाओं से भरपूर है। अंचल गैरपारंपरिक नवीकरणीय (अक्षय) ऊर्जा का अक्षय स्रोत बनता जा रहा है। क्योंकि, मालवा की हवा का ताकतवर प्रवाह विंड पाॅवर और सूरज का रेडिएशन सौर ऊर्जा के लिए ज्यादा अनुकूल माना गया है। जानकारों के अनुसार, ग्रीन एनर्जी के हब के रूप में प्रकाश फैलाने के साथ भविष्य में इस क्षेत्र के पर्यावरण के दुष्प्रभाव कम करने में बड़ी भूमिका हो सकती है, बशर्ते जिम्मेदार इस दिशा में गंभीरता से सोचें। कार्बन क्रेडिट जैसे उपायों को अपनाया जाए तो सस्ती बिजली के साथ अतिरिक्त आमदनी का जरिया भी बन सकेगा। हालांकि अफसरों ने इस पर आधारित परियोजनाओं के विस्तार का संकेत भी दिया है।
प्रदेश में पवन ऊर्जा के लगभग सभी बड़े प्रोजेक्ट मालवा में संचालित हैं, जिनकी विद्युत क्षमता 2643 मेगावाट है। अंचल का यह योगदान कुल अक्षय ऊर्जा उत्पादन का आधे से अधिक है। दूसरी ओर यह अपनी सोलर पाॅवर से प्रदेश को रोशन करने वाला अग्रणी क्षेत्र बनता जा रहा है। खंडवा, आगर, शाजापुर नीमच में 2100 मेगावाट की सौर परियोजनाओं काम शुरू हो गया है। इसी श्रृंखला में ओंकारेश्वर में सबसे बड़े तैरते छह सौ मेगावाट के सोलर प्लांट की वैश्विक उपलब्धि भी जुड़ने वाली है।
केंद्र से भी प्रोत्साहन
पर्यावरण के अनुकूल ऊर्जा स्रोतों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने भी प्रदेश को पिछले कुछ वर्षों में अच्छा खासा फंड जारी किया है। केंद्र ने पिछले तीन वर्षों में प्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों सहित अक्षय ऊर्जा कार्यक्रमों के लिए धनराशि मुहैया कराई है। इनमें 2019, 2020 और 2021 में क्रमश: 95 करोड़, 50 करोड़ और 76 करोड़ रुपए जारी किए हैं। हालांकि बीते तीन वर्षों में लघु पन बिजली परियोजना को छोड़कर इनमें कोई वृद्धि या विस्तार नहीं किया गया है।
wind power
wind power
ग्रीन एनर्जी से अतिरिक्त कमाई भी
प्रदेश में कोयले से बिजली उत्पादन में कमी के लिए जो प्रयास हो रहे हैं, उनमें आम के आम और गुठलियों के दाम वाली कहावत भी चरितार्थ होती है। इन उर्जा स्रोतों से बिजली बनाकर कार्बन उत्सर्जन में भी कमी करते हैं। क्योंकि, इनसे बनने वाली बिजली की मात्रा को यदि थर्मल पॉवर प्लांट में बनाया जाता है तो कोयले की खपत अधिक होती है। इसके जलने से कार्बन की मात्रा निकली है। इनसे कार्बन उत्सर्जन में कमी लाकर कार्बन क्रेडिट का लाभ भी लिया जा सकता है।
वर्जन
नवीकरणीय ऊर्जा विभाग प्रदेश में सोलर, विंड व अन्य वैकल्पिक ऊर्जा स्रोतों की स्थापना कर रहा है। मालवा-निमाड़ रीजन इसके लिए अच्छी जगह है। खासकर मालवा रीजन में हवा व सूर्य के रेडिएशन ऊर्जा उत्पादन के लिए अनुकूल िस्थतियां लिए हुए हैं। वर्तमान में प्रदेश की सबसे ज्यादा विंड एनर्जी उत्पादन क्षमता मालवा में ही है। भविष्य में इन परियोजनाओं के विस्तार की संभावनाएं भी देखी जा रही हैं।
- अजय शुक्ला, कार्यपालन यंत्री, प्रभारी विंड एनर्जी, नवीकरणीय ऊर्जा विभाग
अंचल में ग्रीन एनर्जी की उत्पादन क्षमता

जिला पवन ऊर्जा सौर ऊर्जा
रतलाम 718, 60
देवास 505 1.25
धार 392 18
मंदसौर 386 402
शााजापुर 250 20
आगर 156 203
उज्जैन 107 132
इंदौर --- 5.14

प्रदेश की कुल अक्षय ऊर्जा क्षमता
पवन ऊर्जा - 2643.75 मेगावाट
सोलर पाॅवर- 2461.70 मेगावाट
लघु पनबिजली- 99.90 मेगावाट
बड़ी पनबिजली- 2235.00 मेगावाट
बायोमास एनर्जी- 119.52 मेगावाट
कुल अक्षय ऊर्जा क्षमता- 5325.12 मेगावाट

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Free Ration Scheme: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 80 करोड़ लोगों को तीन महीने और मिलेगा मुफ्त अनाजदिग्विजय सिंह लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव, कमलनाथ ने दो टूक कहा- मैं मध्यप्रदेश नहीं छोडूंगाDA Hike : केंद्रीय कर्मचारियों को दिवाली गिफ्ट, सरकार ने 4 फीसदी बढ़ाया डीएAAP विधायक अमानतुल्लाह खान को मिली राहत, दिल्ली कोर्ट से मिली जमानतMaharashtra News: शिंदे सरकार का बड़ा फैसला, अल्पसंख्यक समुदाय के छात्रों का स्कॉलरशिप हुआ दोगुनारूस ने किया कब्जे वाले यूक्रेन में आयोजित 'जनमत संग्रह' में जीत का दावा, 30 सितंबर को पुतिन करेंगे मिलाने की घोषणाSaudi New PM: सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान बने देश के प्रधानमंत्री, किंग ने जारी किया शाही फरमानलता दीदी ने विश्व को अपने दिव्य स्वरों से अभिभूत कर दिया : PM मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.