2 लाख के लिए प्री मेच्योर बेबी को उसकी मां से दूर कर रहा था यह अस्पताल

2 लाख के लिए प्री मेच्योर बेबी को उसकी मां से दूर कर रहा था यह अस्पताल

Pramod Mishra | Updated: 10 Jul 2019, 01:28:11 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

68 दिन एनआइसीयू में रही प्री मेच्योर बच्ची, पैसों के कारण नहीं कर रहे थे डिस्चार्ज, एसएसपी ने फटकारा तो मां को सौंपा बच्चा, देवास के परिवार के पुलिस ने दिलाई राहत


इंदौर. 7 महीने की प्री मेच्योर बच्ची को निजी हॉस्पिटल के एनआइसीयू में भर्ती कराया गया, करीब 68 दिन वह अस्पताल में रही। परिवार ने करीब 4 लाख से ज्यादा खर्च कर दिया लेकिन हॉस्पिटल प्रबंधन 2 लाख रुपए से अधिक बिल बकाया बताकर बच्ची परिजनों को नहीं सौंप रहा था। परेशान मां एसएसपी के पास पहुंची, एसएसपी ने डॉक्टर को फटकारा तब कहीं जाकर बच्ची मां को सौंपी गई।
देवास में रहने वाली महिला गुहार लेकर एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र के पास पहुंची थी। महिला के पहले बच्चे का निधन हो गया था। दूसरी बच्ची हुई तो प्री मेच्योर। बहुत कमजोर होने पर परिवार के लोगों ने उसे एमआइजी इलाके के हॉस्पिटल के एनआइसीयू में भर्ती कराया। परिवार का कहना है कि करीब 3 लाख रुपए खर्च आने की बात कहीं गई थी। उन्होंने परेशानी बताई तो मुख्यमंत्री कोष से करीब एक लाख रुपए की मदद मिली। इसके अलावा परिवार ने जैसे तैसे कर खर्च वहन किया। अब बच्ची थोड़ा ठीक हुई तो परिवार ने साथ ले जाने की बात कहीं।
एसएसपी के मुताबिक, परिजनों ने बताया कि हॉस्पिटल प्रबंधन बच्ची उन्हें सौंपने को तैयार नहीं है। हॉस्पिटल प्रबंधन से बात की तो वह दो लाख से ज्यादा बकाया होने की बात कह रहा था। इधर, परिजन कह रहे थे कि वे बच्ची के इलाज पर करीब 4 लाख से ज्यादा खर्च कर चुके है, अब उनकी स्थिति और ज्यादा राशि खर्च करने की नहीं है। बिल भुगतान नहीं करने के कारण बच्ची मां को नहीं सौंपने की बात सामने आने पर एसएसपी ने हॉस्पिटल प्रबंधन से बात की। एसएसपी को बच्ची नहीं सौंपने पर हॉस्पिटल के प्रतिनिधि के साथ सख्ती से पेश आना पड़ा जिसके बाद प्रबंधन बच्ची मां को सौंपने के लिए तैयार हो पाया। बच्ची को पाने के बाद मां व परिजनों ने पुलिस का आभार माना।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned