अपने प्यारे गणेश जी को चढ़ाएं ‘रोज पिस्ता लड्डू’

आज बनाते हैं ‘रोज पिस्ता लड्डू’

 इंदौर. शिवपुराण में भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष की चतुर्थी को मंगलमूर्ति गणेश की अवतरण-तिथि बताया गया है जबकि गणेशपुराण के मत से यह गणेशावतार भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी को हुआ था। गण + पति = गणपति। संस्कृतकोशानुसार गण अर्थात पवित्रक। पति अर्थात स्वामी, गणपति अर्थात पवित्रकों के स्वामी।  भगवान गणेश की प्रिय मिठाई है लड्डू। उन्हें भोग में भी लडडू चढ़ाया जाता है। गणेश चतुर्थी के तीसरे दिन हम आपको बता रहे हैं रोज और पिस्ता से बनने वाले स्वादिष्ट लड्डू की रेसिपी जिसे हमारे साथ शेयर किया है कृतिका तलरेजा ने।

सामग्री-

वाइट चॉकलेट कंपाउंड- 400 ग्राम, अमूल क्रीम- 60 एमएल, खोपरा बूरा- 50 ग्राम, गुलकंद- 2 चम्मच, ग्रीन पिस्ता- आवश्यकतानुसार, रोज एसेन्स- कुछ बूंदें

विधि : 200 ग्राम वाइट चॉकलेट कंपाउंड को बाइलर या माइक्रोवेव में मेल्ट करें। अगर माइक्रोवेव में मेल्ट कर रहे हैं तो 2 मिनट तक माइक्रोवेव में गर्म करें और तीस-तीस सेकंड में चम्मच से इसे हिलाएं ताकि ये जले ना। इसके बाद अमूल क्रीम को पहला उबाल आने तक गर्म कीजिए। मेल्टेड चॉकलेट और अमूल क्रीम का मिक्सचर तैयार करें। इसमें रोज एसेंस की कुछ ड्रॉप्स डालकर सिल्की मिक्सचर तैयार करें। अब इस मिक्सचर को क्लिंग रैप में कवर कर 1 घंटे के लिए फ्रीज में रख दें। इसके बाद पिस्ता को बारीक काटे और इसमें गुलकंद मिक्स करें। मिक्सचर को फ्रीज में से बाहर निकालें। हाथ में थोड़ा घी लगाएं ताकि मिक्चर हाथ में चिपके नहीं। अब इसे हाथ में डाले और जिस तरह कचोरी में मूंग दाल का भरावन भरा जाता है वैसे ही गुलकंद और पिस्ता का भरावन इसमें भरें और इसकी छोटी-छोटी बॉल्स तैयार कर लें। अब इसे 20 मिनट के लिए फ्रीज में रख दें। अब 200 ग्राम चॉकलेट कंपाउंड को बाउल में मेल्ट करेंगे और तैयार की गई बॉल्स को मेल्टेड चॉकलेट में डीप करेंं। अब इसे फॉक की मदद से बाहर निकालें ताकि एकस्ट्रा चॉकलेट हट जाएं। इसके ऊपर खोपरे का बूरा और पिस्ता डालकर डेकोरेट करें। आप चाहें तो इसे चांदी का वर्क और केसर से भी डेकोरेट कर सकते हैं।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned