शासकीय कार्य में बाधा पहुंचा रहे छात्र नेता, कार्रवाई नहीं कर रही पुलिस

शासकीय कार्य में बाधा पहुंचा रहे छात्र नेता, कार्रवाई नहीं कर रही पुलिस
Crime: बुजुर्ग को लूटने वाला गिरफ्त में

Lakhan Sharma | Updated: 16 Sep 2019, 10:45:29 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- 8 माह से लगातार शिकायत कर रहे हैं प्राचार्य

इंदौर। शासकीय निर्भय सिंह पटेल कॉलेज में पढऩे वाले छात्र और कुछ बाहरी तत्व लगातार कॉलेज में शासकीय कार्य में बाधा पहुंचा रहे हैं। शासकीय कॉलेज के प्राचार्य और स्टॉफ पिछले आठ माह से लगातार भंवरकुआ थाना प्रभारी को इसकी शिकायत कर रहे हैं, लेकिन अब तक पुलिस ने छात्र नेताओं पर प्रकरण दर्ज नहीं किया है। इसके चलते इनका हौंसला बढ़ता जा रहा है और पिछले दिनों गणेशजी की प्रतिमा की स्थापना के लिए इन्होंने कॉलेज के गेट पर लगा ताला तोड़कर कॉलेज में गणेशजी की स्थापना कर दी।
कॉलेज के प्राचार्य डॉ. डीडी महाजन ने थाना प्रभारी भंवरकुआ को शिकायत की थी। शिकायत में उन्होंने छात्र नेता रजत जोरिया, अशीष साल्वी, रामबाबू दांगी और अन्य की शिकायत की थी। छात्र नेताओं पर कॉलेज में अनाधिकृत रूप से प्रवेश करने, कॉलेज में प्राचार्य व अन्य स्टॉफ से अभद्रता करने, शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने, वसुली करने सहित कई आरोप लगाए गए थे। इसके लिए 14 दिसंबर 2018 को रजत जोरिया, आशीष साल्वी व अन्य की शिकायत की गई। शिकायत पर कार्रवाई नहीं हुई तो 18 दिसंबर को फिर पत्र लिखा। इसके बाद 21 सितंबर को भी पत्र लिखा। कहा गया की पूर्व में की गई शिकायतों पर हुई कार्रवाई से अवगत करावें। पिछले दिनों 4 सितंबर को फिर शिकायत की। इसमें कहा गया की महाविद्यालय के पूर्व छात्र रामबाबू दांगी ने कुछ छात्रों को साथ लेकर गणेशजी की स्थापना को लेकर अभद्र व्यवहार किया। रामबाबू दंागी ने ताला तोड़कर अनाधिकृत रूप से प्रवेश किया। रामबाबू दांगी पूर्व में भी महावद्यिालय की मुख्य लिपिक सुनीता शर्मा से भी अभद्र व्यवहार किया था। थाने पर इसकी भी शिकायत की गई थी।

- पुलिस कार्रवाई नहीं होने से हौंसला बुलंद
शासकीय कॉलेज के प्राचार्य और प्रोफेसर भी इन दिनों पुलिस की कार्यशैली से पीडि़त नजर आ रहे हैं। 8 शिकायती पत्र लिखने के बावजूद पुलिस असामाजिक तत्वों पर कार्रवाई नहीं कर रही है। इससे हौंसले बुलंद होते जा रहे हैं और पिछले दिनों कॉलेज में अनाधिकृत रूप से ताला तोड़कर प्रवेश भी इसलिए ही किया। प्राचार्य डॉ. महाजन का कहना है की हमनें परिसर में बाहर जहां शेड है वहां गणेश जी बैठाने का कहा था। लेकिन ये छात्र नहीं माने। हमारे कॉलेज के छात्र न होकर भी कॉलेज में प्रवेश करते हैं। परीक्षा होती है तो बाधा पहुंचाते हैं। इसलिए हमने बाहर बैठाने का कहा था। इस संबंध में अब हम पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से मिलकर शिकायत करेंगे। थाना प्रभारी भंवरकुआ संजय शुक्ला ने जब बात करना चाही तो वे अवकाश पर थे। उनका शासकीय नंबर एसआई गोयल के पास था जिनका कहना है की मामला जांच में होगा इसलिए कार्रवाई नहीं हुई। वहीं छात्र नेता रामबाबू दांगी का कहना है की सारे आरोप झूठे लगा रहे हैं। कोई पैसा वसुली का सबूत हो तो दें। प्राचार्य छात्रों को परेशान करते हैं। ताला मैंने नहीं तोड़ा सभी छात्रों ने तोड़ा था।

- असामाजिक तत्वों पर होगी कार्रवाई
यह मामला मेरी जानकारी में नहीं था। प्राचार्य से बात कर जो भी असामाजिक तत्व होंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी।
गुरूप्रशाद पाराशर, एडिशनल एसपी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned