पुणे से आए युवक में दिखा कोरोना के लक्षण, खुद अस्पताल में जाकर हुआ भर्ती

बोला पुणे में कोरोना संदिग्धों के बीच रहा मेरा संपर्क।

इंदौर. कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वयं का जागरूक होना जरूरी है। अगर आप में कोरोना के लक्षण Symptoms of corona जैसे - बहती नाक, गले में खराश, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ (गंभीर मामलों में) दिखाई दें तो आपको भी डॉक्टर से सलाह लेना जरूर है। ऐसा ही कुछ लक्षण पुणे से आए युवक में दिखा तो युवक ने बुरहानपुर गांव लौट कर हेल्पलाइन पर सूचना दी की वह अस्पताल में आइसोलेट होना चाहता है।

दरअसल, महाराष्ट्र के पुणे में इंजीनियरिंग की जॉब करने वाला युवक बुरहानपुर के एक गांव लौट रहा था, रास्ते से ही उसने हेल्प लाइन पर सूचना दी की वह अस्पताल में आइसोलेट होना चाहता है। क्योंकि वह पुणे में कोरोना के संदिग्धों के संपर्क में रहा। डॉक्टरों ने तुरंत उसका इलाज शुरू किया और सेंपल इंदौर मेडिकल कॉलेज में भेजे। इसकी रिपोर्ट अब गुरुवार को आ सकेगी।

 

महामारी नियंत्रक रविंद्रसिंह राजपूत ने बताया कि 26 साल का युवक पुणे में इंजीनियरिंग की जॉब करता है। उसने फोन पर सूचना दी की वह पुणे में कोरोना पॉजीटिव मरीज के संपर्क में रहा। उसने बताया कि कोरोना के जो लक्षण है वह उसमें लग रहे हैं। इसलिए वह अस्पताल में आइसोलेट होना चाहता हैं। गांव में या अपने घर पर किसी को कोई तकलीफ नहीं देना चाहता। बुधवार सुबह 11 बजे वह भर्ती हो गया।

ताबड़तोड़ उसका सेंपल लेकर निजी वाहन से इंदौर भेजा गया। राजपूत ने बताया कि अब कोरोना की जांच इंदौर में भी हो रही है। इसके अलावा भोपाल, जबलपुर में भी जांच चल रही है। डॉक्टर शकील अहमद, सिविल सर्जन ने बताया कि
युवक को कोरोना संदिग्ध लग रहा है। जिसकी जांच कर सेंपल इंदौर भेज दिए हैं। कल इसकी रिपोर्ट आएगी।

KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned