मेडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

मेडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

Reena Sharma | Publish: Jul, 20 2019 11:54:41 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

लसूडिय़ा में दो महिला प्रोफेसर की मौत का मामला: एसयूवी के ड्राइवर को किया गिरफ्तार, नम आंखों से दी विदाई

इंदौर. लसूडिय़ा में एक्रोपोलिस कॉलेज की दो प्रोफेसर की सडक़ हादसे में मौत के बाद शुक्रवार को अंतिम संस्कार हुआ। परिवार के साथ कॉलेज के छात्रों के आंसू भी उन्हें याद कर बहते रहे। एक प्रोफेसर की 5 साल की बेटी बार-बार मां का पूछ रही है। परिवार भी उसे नहीं समझा पा रहा, अब वह दुनिया में नहीं है।

लसूडिय़ा इलाके में एमआर-11 पर गुरुवार शाम कार में सवार एक्रोपोलिस कॉलेज की प्रोफेसर विनीता ईनानी (32) निवासी साउथ तुकोगंज व स्वाति योनाति (30) की मौत हो गई थी। साथी प्रोफेसर रुचि पांडे (29) निवासी एमआईजी का बॉम्बे अस्पताल के आईसीयू में इलाज जारी है। अभी वे बयान देने की स्थिति में नहीं है। टीआई लसूडिय़ा संतोष दूधी ने बताया , एसयूवी के ड्राइवर सुरेश यादव (32) निवासी गोविंद नगर खारचा को गिरफ्तार कर लिया है। वह देवास नाका पर भगवती पटवा ऑटोमोबाइल में दो साल से ड्राइवर है। गाड़ी ग्राहक वीरेंद्रसिंह बैस निवासी साउथ तुकोगंज की है, जो सर्विसिंग के लिए आई थी और वह टेस्ट ड्राइव लेने निकला था। सुरेश का कहना है, कार अचानक सामने आ गई। टक्कर के बाद वह गाड़ी से निकलकर कंपनी आ गया। उसके खिलाफ पुलिस ने लापरवाही का केस दर्ज किया है।

 

indore

एयर बैग नहीं खुला

प्रोफेसरों की कार को एसयूवी ने साइड से टक्कर मारी, जिससे एयर बैग नहीं खुला, वरना दोनों की जान बच सकती थी। तीनों महिलाएं गाड़ी के अंदर फंस गई थीं, जिन्हें आसपास की महिलाओं ने निकाला। पीछे गाड़ी पर दो कॉलेज कर्मचारी व कॉलेज की बस आ रही थी। ये लोग प्रोफेसरों को घायल देख रुके व 108 एंबुलेंस बुलाकर अस्पताल भिजवाया।

मां का पूछ रही बेटी

साउथ तुकोगंज निवासी विनीता (32) पति रोहित ईनानी की शुक्रवार सुबह 11.30 बजे अंतिम यात्रा निकली। पति विवेक, मां व भाई उदित का रो-रोकर बुरा हाल था। 5 साल की बेटी को चेहरा दिखाने लाए तो सबकी आंखों से आंसू छलक पड़े। मां के पैर पड़वाने के बाद बेटी से परिक्रमा लगवाई गई। मां को ऐसे देखकर बेटी रोने लगी तो उसे घर में ले गए। गुरुवार शाम से ही बेटी बार-बार मां का पूछ रही है।

मां व भाई को शुक्रवार को मौत का पता चला

बाबजी नगर निवासी स्वाति (30) पति डॉ. विवेक योनाती ने 2013 में एक्रोपोलिस कॉलेज से बीई किया। कॉलेज कैंपस में टीसीएस मुंबई में नौकरी लग गई। शादी के बाद वापस इंदौर आ गई। पति एमवायएच में रेडियोलॉजिस्ट हैं। स्वाति के परिवार में माता, पिता व भाई अवि है। अवि निजी कंपनी में पुणे में नौकरी करता है। उसे भी बहन का एक्सीडेंट बताकर बुलाया गया। इंदौर पहुंचने पर उसे मौत का पता चला। मां रेखा को शुक्रवार को मौत का बताया तो हालत बिगड़ गई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned