मनचाहा जीवनसाथी चाहिए तो सावन में जपें ये तीन मंत्र, प्रसन्न हो जाएंगे महादेव

मनचाहा जीवनसाथी चाहिए तो सावन में जपें ये तीन मंत्र, प्रसन्न हो जाएंगे महादेव

Hussain Ali | Updated: 01 Aug 2019, 03:08:48 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

कुछ ऐसे मंत्र हैं जिनका जप करने से कन्या और वर दोनों को मनचाहा जीवनसाथी मिल जाता है।

इंदौर. सावन के महीने में कन्याएं सुयोग्य वर प्राप्ति की मनोकामना लिए सावन सोमवार का व्रत रखती हैं। मान्यता है कि सावन सोमवार का व्रत करने वाली लड़कियों को जल्द ही सुयोग्य वर की प्राप्ति होती है और उनके विवाह में आ रही अड़चनें समाप्त होती हैं। कुछ ऐसे मंत्र हैं जिनका जप करने से कन्या और वर दोनों को मनचाहा जीवनसाथी मिल जाता है।

indore

सुलक्षणा पत्नी के लिए जपें ये मंत्र
पत्नीं मनोरमां देहि नोवृत्तानुसारिणी।
तारिणीं दुर्गसंसारसागरस्य कुलोद्भवा।।

सावन का महीना दांपत्य जीवन के लिहाज से भी बेहद महत्वपूर्ण माना गया है। भगवान शिव के साथ ही मंगला गौरी यानी माता पार्वती की पूजा का भी विशेष महत्व है। कुंवारे लडक़ों को सावन के महीने में रोजाना कम से कम 5 माला इस मंत्र का जप करना चाहिए। यदि स्वयं संभव न हो तो किसी साधु-संत से भी करवा सकते हैं। सावन से शुरू करके विवाह संपन्न होने तक एक माला जप तो स्वयं भी करना चाहिए।

सुंदर पत्नी के लिए जपें ये मंत्र
क्लीं विश्वावसुर्नाम गन्धर्व: कन्यानामधिपतिं लभामि।
देवदत्तां कन्यां सुरूपां सालांकारा तस्मै विश्वावसवे स्वाहा।।

अगर अभी तक आपकी जीवनसंगिनी की तलाश पूरी नहीं हुई है तो सावन में इस मंत्र का रोजाना जप करके आप एक सुंदर पत्नी प्राप्त कर सकते हैं। मंत्रोच्चारण करने के बाद भगवान शिव और माता पार्वती को मिष्ठान से भोग लगाकर पुष्प अर्पित करें। भोग को प्रसाद के रूप में स्वयं भी ग्रहण करें। भोले बाबा आपकी मनोकामना जल्द पूरी करेंगे।

योग्य वर के लिए जपें ये मंत्र
ऊँ ह्रीं गौर्ये नम:। हे गौरी शंकर अर्धागिंनी यथा त्वं शंकर प्रिया।।

जिन कन्याओं के विवाह में विलंब हो रहा है उन्हें अक्षय तृतीया, श्रावण मास में, दीपावली, वसंत और नवरात्र में इस मंत्र का जाप आरंभ कर देना चाहिए और नियमित रूप से करना चाहिए। कम से कम 51 हजार या फिर सवा लाख की संख्या में इस मंत्र का जप पूरा करना चाहिए। सावन में शिव-पार्वती के मंदिर में धूप दीप जलाकर पीले और लाल पुष्प अर्पित करने चाहिए। साथ में प्रार्थना करनी चाहिए- हे गौरी जिस प्रकार आप भगवान शंकर की प्रिया हैं, उनकी अर्धांगिनी हैं, उसी प्रकार हे माता कल्याणी मुझको दुर्लभ वर प्रदान करो।

indore

कॅरियर की बाधा भी होगी दूर

सावन के महीने में भगवान भोलेनाथ की कृपा से जीवन की हर बाधा दूर हो जाती है। कुंडली में कुछ विशेष प्रकार के दोषों के कारण करियर और नौकरी-पेशे में बाधाएं आती हैं। मगर सावन के महीने में कुछ खास उपायों को आजमाकर आप अपनी कुंडली के दोष भी दूर कर सकते हैं। बुध संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवलिंग पर दूर्वा चढ़ाएं। इससे शिक्षा व करियर में आने वाली परेशानी दूर होती हैं।

चंद्रमा बाधक हो तो ये करें

अगर आपकी कुंडली में चंद्रमा से संबंधित दोष हैं तो सावन के महीने में आप हर सोमवार को भोलेबाबा का कच्चे दूध से अभिषेक करें। चंद्रमा संबंधी दोष होने पर व्यक्ति मानसिक तनाव से घिरा रहता है और तमाम प्रयासों के बावजूद उसे सफलता नहीं मिलती।

सूर्य बाधक हो तो ये करें

अगर आपकी कुंडली में सूर्य की ग्रह दशा है तो आपको समाज में अपमान का सामना करना पड़ सकता है और ऑफिस में आपका बॉस भी आपसे नाराज रहेगा। सावन के महीने में आप रोजाना सुबह स्नान के पश्चात शिवलिंग पर हाथ की पहली 3 उंगलियों से चंदन का लेप लगाएं। भोलेबाबा प्रसन्न होकर सब सही कर देंगे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned