मूकबधिर महिला के साथ पड़ोसी ने कर दी यह कैसी हरकत.....

मूकबधिर महिला के साथ पड़ोसी ने कर दी यह कैसी हरकत.....

Pramod Mishra | Updated: 04 Jul 2019, 08:44:48 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

महिला को अश्लील वीडियो दिखाकर गलत हरकत का प्रयास, कुश्ती के राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे पति को ही पुलिस ने बैठा लिया 5 घंटे थाने, 11 दिन बाद दर्ज हुआ केस

इंदौर. मूकबधिर श्रेणी में नेशनल कुश्ती चेम्पियन रहने युवक की मूक बधिर पत्नी के साथ आरोपी ने गलत हरकत की। पति ने समझाया तो उसके खिलाफ झूठी शिकायत कर दी जिस पर पुलिस ने 5 घंटे थाने में बैठाए रखा। मूकबधिर दंपनी ने हरकत की शिकायत की तो कई दिन तक पुलिस को समझ नहींं आई, विशेषज्ञ को बुलाया तब कहीं जाकर 12 दिन बाद छेड़छाड़ का केस दर्ज हुआ।
छत्रीपुरा पुलिस ने मूकबधिर महिला के साथ छेड़छाड़ के मामले में मनीष के खिलाफ केस दर्ज किया है। पीडि़त महिला का पति मूकबधिर वर्ग की कुश्ती में नेशनल चेम्पियन रहा है और इस समय मजदूरी करता है। परिवार में पति-पत्नी व छह साल का बेटा है। आरोपी मनीष कई बार महिला को घर छेड़छाड़ कर चुका था। 22 जून को भी वह घर में आ गया। छह साल के बेटे को सामान लेने भेजकर महिला को परेशान किया। अश्लील वीडियो दिखाकर गलत हरकत की कोशिश की तो महिला ने विरोध किया। इस बीच छह साल का बच्चा घर आ गया तो वह भी मां को बचाने भिड़ गया। बच्चे ने शोर मचाया तो आरोपी चला गया।
शाम को पति के लौटने पर महिला ने इशारों में अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। पति आरोपी के घर पहुंचा और विरोध जताया तो आरोपी के परिवार ने उसके खिलाफ ही छत्रीपुरा थाने में परेशान करने की शिकायत कर दी। अगले दिन छत्रीपुरा पुलिस पति को पकड़ लाई और 5 घंटे थाने पर बैठाए रखा। पीडि़त युवक इशारों में उसकी पत्नी के साथ हुई घटना के बारे में बताता रहा है लेकिन पुलिस अफसरों को कुछ समझ नहीं आया।
24 जून को पीडि़त युवक एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र से मिला तो उन्होंने सीएसपी डीके तिवारी को जांच के लिए कहा। पुलिस को मूक बधिर दंपत्ति की शिकायत समझ नहीं आई तो 3 जुलाई को विशेषज्ञ ज्ञानेंद्र पुरोहित को बुलाया गया। ज्ञानेंद्र पुरोहित ने साइन लेंग्वेज में दंपती से बात की तो उनके साथ हुआ पूरा वाक्या सामनेे आ गया। पता चला कि पुलिस ने जिसे थाने में बैठाया वह पीडि़त है, आरोपी ने पत्नी के साथ कई बार गलत हरकत का प्रयास किया। हालांकि पुलिस ने केस दर्ज कर लिया लेकिन बयान नहीं होने से कार्रवाई आगे नहीं बढ़ी। गुरुवार को फिर विशेषज्ञ को बुलाकर रात में पीडि़त पक्ष के बयान दर्ज किए गए।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned