एचटीसी के अध्यक्ष फैसल सिद्दीकी का इस्तीफा, भारत को अलविदा कहने की तैयारी में HTC

लगातार घाटे में चल रही ताइवान की स्मार्टफोन कंपनी एचटीसी जल्द ही भारत छोड़ सकती है। कंपनी के साउथ एशिया प्रेसिडेंट और कंट्री हेड फैसल सिद्दीकी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

By: manish ranjan

Published: 20 Jul 2018, 12:05 PM IST

नई दिल्ली। लगातार घाटे में चल रही ताइवान की स्मार्टफोन कंपनी एचटीसी जल्द ही भारत छोड़ सकती है। कंपनी के साउथ एशिया प्रेसिडेंट और कंट्री हेड फैसल सिद्दीकी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सिद्दीकी के अलावा भारत में सेल्स हेड और प्रोडक्ट हेड ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। खबरों में कहा जा रहा है कि एचटीसी के भारत छोड़ने का फैसला कर लिया है, इसलिए इन तीनों बड़े अधिकारियों ने अपने पद से इस्तीफा दिया है। आपको बता दें कि हाल ही में एचटीसी ने भारत में काम कर रहे अपने 1500 कर्मचारियों को निकाल दिया था। तभी से कंपनी के भविष्य को लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं।


जनवरी में ही कर दी था जाने की तैयारी
जानकारी के अनुसार एचटीसी ने जनवरी से ही भारत से जाने की तैयारी कर ली थी। दरअसल जनवरी में एचटीसी का गूगल के साथ हुआ समझौता पूरा हो गया था। इसके बाद से ही कंपनी ने अपने कर्मचारियो को निकालना शुरू कर दिया था। कंपनी ने 1,500 कर्मचारियों के साथ-साथ 70 से 80 बड़े अधिकारियों को भी पद छोड़ने के लिए कहा था। हालांकि, मुख्य वित्त अधिकारी राजीव तायल को कंपनी में बने रहने के लिए कहा गया है।


भारत में छोटे तौर पर करेगी कारोबार
एचटीसी के एक अधिकारी के मुताबिक, अभी कंपनी पूरी तरह से भारत से नहीं जा रही हैं। कंपनी भारत मे वर्चुअल रियलिटी डिवाइस बेचेगी और ताइवान से ही भारत में कारोबार करेगी, लेकिन अब यह उतना बड़ा नहीं रहेगा जितना अभी है। कंपनी अपने अपने कारोबार को छोटा कर लेगी।

दोबारा भारत आ सकती है HTC
उधर कंपनी के एक अन्य अधिकारी का कहना है कि अगर कंपनी का कारोबार फिर से अच्छा रहता तो वह दोबारा से ऑनलाइन एक्सक्लूसिव ब्रांड के तौर पर भारत में आ सकती है। अधिकारी का कहना है कि भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के बाजारों में HTC की हालत सही नहीं चल रही हैं। ऐसे में अभी भारत से जाना ही बेहतर विकल्प है।

Show More
manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned