विदेशों में भी अपनी धाक जमाएंगे मुकेश अंबानी, कर रहे फैशन और रिटेल स्टोर खरीदने की तैयारी

विदेशों में भी अपनी धाक जमाएंगे मुकेश अंबानी, कर रहे फैशन और रिटेल स्टोर खरीदने की तैयारी

Shivani Sharma | Updated: 06 Sep 2019, 02:07:09 PM (IST) इंडस्‍ट्री

  • विदेशी रिटेल कंपनियों को खरीदने की योजना बना रही रिलायंस
  • हाल ही में अंबानी ने 620 करोड में हेमलेज कंपनी को खरीदा

नई दिल्ली। भारत के साथ-साथ अब मुकेश अंबानी विदेशों में भी अपनी पहचान बनाने में जुट गए हैं। रिलायंस इंडिस्ट्रीज लिमिटेड अब विदेश में फैशन और बच्चों से जुड़े रिटेल स्टोर को खरीदने की तैयारी कर रही है। इसके साथ ही कंपनी कंज्यूमर मार्केट में विस्तार के लिए ग्लोबल स्पोर्ट्स और ब्यूटी ब्रांड के साथ भी पार्टनरशिप कर सकती है।


तेल कारोबार में घटाएंगे हिस्सेदारी

एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी ने हाल ही में चीन की खिलौना उत्पादन कंपनी हेमलीज को खरीदा है। फिलहाल इस समय मुकेश अंबानी की रियायंस इंडस्ट्रीज अपने तेल के कारोबार की हिस्सेदारी घटाकर कंज्यूमर फेसिंग कंपनियों में निवेश बढ़ाने के बारे में विचार कर रही है।


ये भी पढ़ें: आर्थिक मोर्चे और बेरोजगारी पर फेल होती नजर आ रही मोदी सरकार, सामने आया 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड


अरामको कंपनी को बेचेंगे हिस्सेदारी

आपको बता दें कि रिलायंस ने हाल ही में अपने अपने तेल एवं रसायन कारोबार में 20 फीसदी हिस्सेदारी सऊदी अरब की प्रमुख तेल कंपनी अरामको को बेचने का प्लान बनाया है। इस कंपनी की खरीदारी से रिलायंस समूह को करीब 1.06 लाख करोड़ रुपए मिलेंगे।


कम दाम में बेच रही अच्छा सामान

इसके साथ ही कंपनी अब हैंडबैग से लेकर ब्रॉडबैंड तक सबकुछ बेच रही है, ताकि देश के मध्यम वर्ग की बचत का बड़ा हिस्सा अपने पाले में किया जा सके। फिलाहल रिलायंस इस समय देश में कई स्टोर चला रही है, जिसमें कम दाम में देश की जनता को अच्छा सामान मिलता है।


ये भी पढ़ें: अब भारत के ई-कॉमर्स बाजार में उतरेगी अलीबाबा, अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों को देगी टक्कर


620 करोड में खरीदी हेमलेज

इस समय रिलायंस देश में 40 विदेशी कंपनियों के साथ मिलकर भारत में कई बड़े स्टोर चला रही है। इसके साथ ही हाल ही में मुकेश अंबानी ने विदेश में अपना पहला अधिग्रहण इस साल मई माह में "हेमलेज" की खरीदारी करके किया था। यह विश्व की सबसे पुरानी कंपनी है। अंबानी ने इस कंपनी को 620 करोड़ रुपए में खरीदा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned