मुकेश अंबानी की JIO को धूल चटाने आ रही है ये कंपनी, एक साल तक सबकुछ मिलेगा मुफ्त

मुकेश अंबानी की JIO को धूल चटाने आ रही है ये कंपनी, एक साल तक सबकुछ मिलेगा मुफ्त

Manoj Kumar | Publish: Sep, 09 2018 12:54:23 PM (IST) इंडस्‍ट्री

रिलायंस जियो ने 2 साल में ही 25 करोड़ से ज्यादा ग्राहक बना लिए हैं।

नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो टेलीकॉम सेक्टर में धूम मचा रही है। मात्र 2 साल में ही रिलायंस जियो के उपभोक्ताओं की संख्या 25 करोड़ के पार पहुंच गई है। यही नहीं, रेवेन्यू मार्केट शेयर के मामले में रिलायंस जियो दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। रिलायंस जियो का रेवेन्यू शेयर 22.4 फीसदी है। यह सब रिलायंस जियो की ओर से दिए जा रहे धमाकेदार ऑफर्स की बदौलत हो रहा है। रिलायंस जियो के ऑफर्स को देखते हुुए दूसरी टेलीकॉम कंपनियों एयरटेल, आइडिया और वोडाफोन को भी सस्ते टैरिफ लाने पड़ रहे हैं। लेकिन अब एक ओर टेलीकॉम कंपनी बाजार में कदम रखने की तैयारी कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह कंपनी अगले साल तक बाजार में आ सकती है।

ग्राहकों को मिलेंगे ढेरों फायदे

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मोबल नाम की एक कंपनी नया सिम लॉन्च करने जा रही है। यह सिम 4जी सिम होगा और इस पर कॉलिंग-डाटा समेत सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। यह सिम दिसंबर 2018 तक लॉन्च हो जाएगा और जनवरी 2019 तक लोग इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कंपनी ने दावा किया है कि इस सिम पर एक साल तक कॉलिंग, डाटा, मैसेजिंग समेत सभी प्रकार की सुविधाएं मुफ्त मिलेंगी। साथ ही इस सिम का नेटवर्क भी अन्य कंपनियों से काफी बेहतर होगा। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि जिस प्रकार से मुफ्त सेवाएं देकर जियो ने मार्केट में पैठ बनाई है, ठीक उसी प्रकार से मोबल कंपनी फ्री ऑफर्स के जरिए बाजार में पैठ बनाना चाहती है।

ग्राहकों की हो जाएगी बल्ले-बल्ले

यदि यह कंपनी आती है तो इससे ग्राहकों की बल्ले-बल्ले हो जाएगी। इसका कारण यह है कि रिलायंस जियो की लॉन्चिंग के बाद से ही टेलीकॉम कंपनियों पर अपने टैरिफ सस्ते करने का भारी दबाव बना हुआ है। यही कारण है कि आज सारी कंपनियां ग्राहकों को लुभाने के लिए एक के बाद एक सस्ते टैरिफ लॉन्च कर रही हैं। अब अगर मोबल कंपनी भी अपना सिम लॉन्च कर देती है तो अन्य कंपनियों पर फिर से टैरिफ सस्ता करना का दबाव बनेगा। एेसे में ग्राहकों के पास सस्ता प्लान चुनने की आजादी होगी।

(नोट: यहां हम आपको बता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स में किए गए दावे का पत्रिका डॉट कॉम किसी भी तरह से पुष्टि नहीं करता है।)

Ad Block is Banned