CGST: प्रदेश के इस जिले ने राजस्व वसूली में तोड़े रेकॉर्ड, भरा खजाना

CGST:  प्रदेश के इस जिले ने राजस्व वसूली में तोड़े रेकॉर्ड, भरा खजाना
revenue collection

Reetesh Pyasi | Updated: 12 Oct 2019, 06:46:31 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

त्योहारों पर उद्योग और कारोबार में तेजी का असर

जबलपुर। त्योहारों पर उद्योग और व्यापार में तेजी का असर सेन्ट्रल जीएसटी आयुक्तालय के खजाने पर पड़ा है। उसमें इजाफा हो गया है। बीती दो तिमाही की बात करें तो कई जगह जीएसटी के संकलन में कमी आई है लेकिन पिछले साल के मुकाबले जबलपुर आयुक्तालय में राजस्व बढ़ा है। पिछले वित्तीय वर्ष में सितम्बर माह तक यह 3709 करोड़ था तो इस वित्तीय वर्ष में यह 3909 करोड़ से अधिक हो चुका है।

18 जिले आते हैं जबलपुर सेंट्रल जीएसटी के अंतर्गत
प्रदेश के भोपाल, इंदौर और उज्जैन में स्थितियां अलग-अलग हैं। जबलपुर सेंट्रल जीएसटी के अंतर्गत लगभग 18 जिले आते हैं। इन जिलों में बड़े उद्योग और व्यापारिक संस्थान करदाता है। इनमें एनसीएल के अलावा सीमेंट सहित दूसरे उद्योग शामिल हैं। वहीं व्यापारिक क्षेत्र की बात करें तो जबलपुर में कुछ बड़े कारोबारी जीएसटी के रूप में राजस्व में अच्छा-खासा योगदान देते हैं। केंद्र सरकार सितम्बर माह में जीएसटी में आई गिरावट की समीक्षा कर रही है। ऐसे में जबलपुर आयुक्तालय में स्थिति ठीक है।

अभियानों का असर
विभागीय सूत्रों का कहना है कि आयुक्तालय के द्वारा बीच करदाताओं के बीच अलग-अलग समय में जागरुकता अभियान चलाए गए हैं। यही नहीं जीएसटी की चोरी के मामले भी सामने आएं। उनमें कर चोरी की राशि भी जमा कराई गई है। अभी हाल में केंद्र सरकार ने सबका विश्वास कर समाधान योजना शुरू की है। इसमें जबलपुर में अब तक करीब 170 आवेदन आ चुके हैं। इसमें लंबित प्रकरणों का निपटारा किया जा रहा है।

राजस्व के आंकड़े (राशि करोड़ में)
माह वर्ष 2018-2019 , 2019-2020
अप्रैल 774 -711
मई 592 -637
जून 610 -644
जुलाई 604 -647
अगस्त 597 -654
सितम्बर 532 -615

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned