कई शहरों से मिलनी थी कनेक्टिविटी...पर हुआ यह

नहीं शुरू हो सकीं नई फ्लाइट
नई फ्लाइट्स शुरू करने कम्पनियों ने किया था दावा
विस्तारीकरण के पूरे होने का इंतजार

जबलपुर. संस्कारधानी को देश के अधिक से अधिक शहरों से सीधी एयर कनेक्टिविटी मिल सके, इसके लिए कई विमान कम्पनियों ने समय-समय पर नए शहरों के लिए नई फ्लाट्स शुरू करने के दावे किए। कई माह बाद भी किसी नए शहर के लिए फ्लाइट्स शुरू नहीं हो सकीं। यही कारण है कि देश के अन्य शहरों के लिए या तो फ्लायर्स कनेक्टिंग फ्लाइट्स ले रहे हैं या फिर वे नागपुर से सीधी उड़ान में सवार हो रहे हैं।
डुमना आने-जाने वाली कुल फ्लाइट्स- 18
इन शहरों के लिए मिलनी थी कनेक्टिविटी
रायपुर, प्रयागराज, भोपाल, पुणे
सुरक्षित होती है नाइट लैंडिंग
डुमना एयरपोर्ट में कुछ वर्ष पूर्व तक नाइट लैंडिंग में समस्या आ रही थी। इसे विकसित किया गया। पिछले कुछ वर्षों से नाइट लैंडिंग शुरू हो गई। आसानी और सुरक्षित ढंग से विमान यहां से रात में उड़ान भर रहे और लैंडिंग भी हो रही है।
इन कम्पनियों ने बंद की ये उड़ानें
जूम एयरलाइंस- जबलपुर हैदराबाद जबलपुर
एयर इंडिया- जबलपुर हैदराबाद जबलपुर
रात में भी शुरू हो सकती हैं उड़ानें
अमूमन डुमना एयरपोर्ट रात दस बजे तक खुला रहता है। यहां अधिकारी और कर्मचारी तैनात रहते हैं। ऐसे में डुमना से रात में घरेलू उड़ाने शुरू की जा सकती हैं।
अभी इन रूटों पर फ्लाइट्स
रूट- कम्पनी- फ्लाइट
जबलपुर से अहमदाबाद- स्पाइस-01
अहमदाबाद से जबलपुर- स्पाइस-01
जबलपुर से दिल्ली- स्पाइस- 02
जबलपुर से दिल्ली- एयर इंडिया- 01
दिल्ली से जबलपुर- स्पाइस- 02
दिल्ली से जबलपुर- एयर इंडिया- 01
जबलपुर से मुम्बई- स्पाइस- 01
मुम्बई से जबलपुर- स्पाइस- 01
जबलपुर से हैदराबाद- इंडिगो- 01
जबलपुर से हैदराबाद- स्पाइस- 01
हैदराबाद से जबलपुर- स्पाइस- 01
हैदराबाद से जबलपुर- स्पाइस- 01
जबलपुर से कोलकाता- स्पाइस- 01
जबलपुर से कोलकाता- इंडिगो- 01
कोलकाता से जबलपुर- स्पाइस- 01
कोलकाता से जबलपुर- इंडिगो- 01
2022 तक का इंतजार
जानकारों की मानें तो विमान कम्पनियां 2022 का इंतजार कर रहीं हैं। इसके पीछे की वजह डुमना का विस्तारीकरण है। 2022 तक यह विस्तारीकरण पूरा हो जाएगा। जिसके बाद विभिन्न कम्पनियां यहां से नई उड़ानें शुरू कर सकती हैं।
इन शहरों के लिए आवश्यक
भोपाल व रायपुर के लिए रोजाना हजारों लोग शहर आते-जाते हैं। पुणे में शहर के कई परिवारों के बच्चे पढ़ाई और नौकरी के लिए रह रहे हैं। वहीं प्रयागराज जाने वालों की संख्या भी अधिक है। ऐसे में इन शहरों के लिए लम्बे समय से सीधी फ्लाइट की मांग उठ रही है।

virendra rajak
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned