आज शाम तक गेहूं का परिवहन नहीं हुआ तो ठेका फर्म पर बढ़ सकती है पेनल्टी

आज शाम तक गेहूं का परिवहन नहीं हुआ तो ठेका फर्म पर बढ़ सकती है पेनल्टी
wheat in purchase center

Praveen Kumar Chaturvedi | Updated: 10 Jun 2019, 01:44:42 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

समर्थन केंद्रों में रखा है 10 हजार टन गेहूं, परिवहन में देरी पर जिला विपणन संघ ठेका फर्म पर दो बार लगा चुका है पेनल्टी

जबलपुर। जिले में जिस तेजी से समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी हुई, उस गति से खरीदी केंद्रों से परिवहन नहीं हो रहा है। अभी भी खरीदी केंद्रों में 10 हजार टन गेहूं रखा हुआ है। इसके परिवहन के लिए परिवहनकर्ता फर्म को 10 जून की शाम तक का समय दिया गया है। तय समय तक गेहूं गोदाम में नहीं पहुंचा तो ठेकेदार पर पेनल्टी लगाई जाएगी। इससे पहले भी समय पर गेहूं का परिवहन नहीं होने पर ठेकेदार पर दो बार पेनल्टी लगाई जा चुकी है। पेनल्टी की रकम 2.75 से बढकऱ 4.5 करोड़ रुपए हो गई है।

3.67 लाख मीट्रिक टन की खरीदी
जिले में इस साल गेहूं की बम्पर पैदावार हुई है। समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदने के लिए 80 केंद्र खोले गए थे। इनमें 17 हजार से अधिक किसानों से 3.67 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा गया। यह प्रदेश के शेष्ज्ञ जिलों की तुलना में अधिक है।

ठेका फर्म ने नहीं लगाए पर्याप्त वाहन
जानकारों के अनुसार गेहूं के परिवहन के लिए पहले तो टेंडर में देरी हुई। ठेका फर्म ने भी जरूरत के हिसाब से वाहन नहीं लगाए। समय पर परिवहन नहीं होने से जिला विपणन संघ फर्म पर दो बार में 4.5 करोड़ रुपए पेनल्टी लगा चुका है। इससे किसानों को उपज के भुगतान में विलम्ब हो रहा है।

भुगतान व्यवस्था बदली
अभी तक गेहूं खरीदने के बाद उपज परिवहन के लिए तैयार होने के कुछ समय बाद किसान के खाते में राशि जमा कर दी जाती थी। इस बार भुगतान की व्यवस्था में बदलाव किया गया है। इसके अनुसार जब तक किसान का गेहूं गोदाम तक नहीं पहुंचेगा, उसके खाते में राशि जमा नहीं होगी।

70 करोड़ रुपए का भुगतान शेष
जिले में कुल खरीदी पर किसानों को करीब 620 करोड़ रुपए का भुगतान किया जाना है। अभी तक 550 करोड़ रुपए का भुगतान हुआ है। 70 करोड़ रुपए का भुगतान अब भी बाकी है।

इस सम्बंध में जिला विपणन अधिकारी विवेक तिवारी ने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीदे गए गेहूं के परिवहन के लिए ठेकेदार को दस जून की शाम तक का समय दिया गया है। इससे पहले देरी होने पर 4.5 करोड़ रुपए की पेनल्टी लगाई है। इसकी कटौती उसके बिल से की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned