scriptDog house arrangements collapsed, dog in preparation for escape | डॉग हाउस की व्यवस्थाएं चौपट, भागने की तैयारी में डॉग | Patrika News

डॉग हाउस की व्यवस्थाएं चौपट, भागने की तैयारी में डॉग

केन्द्र में डॉग रखने की समुचित व्यवस्था नहीं, बधियाकरण के बाद वहीं छोड़ दिए जाते हैं डॉग, भोजन-पानी का पता नहीं

जबलपुर

Updated: October 21, 2021 03:06:32 pm

जबलपुर. नगर निगम के द्वारा कठौंदा में बनाए गए डॉग हाउस की व्यवस्थाओं ने दम तोड़ दिया है। केन्द्र में स्ट्रीट डॉग को लाया जाता है, जहां बधियाकरण के बाद उसे आसपास ही छोड़ दिया जा रहा है। इससे यह हो रहा है कि अपना स्थान छोडऩे के बाद डॉग भटक रहे हैं और कॉलोनियों में इनकी संख्या बढ़ती जा रही है। लोगों का कहना है कि ये डॉग आक्रमक भी हो रहे हैं, जिनसे खतरा पैदा हो गया है। जिम्मेदारों की दलील है कि बड़ा सेटअप नहीं होने की वजह से जितनी नसबंदी की जा रही है, उससे की ज्यादा इनकी जनसंख्या बढ़ जाती है।
शहर में आवारा घूमने वाले डॉग की संख्या पर नियंत्रण करने के उद्देश्य से नगर निगम के द्वारा उनकी नसबंदी की जा रही है। इसके तहत डॉग हाउस में शहर भर से सडक़ पर घूमने वाले कुत्तों को लाया जाता है। केन्द्र में बधियाकरण के बाद उन्हें उसी स्थान पर छोड़ा जाना चाहिए लेकिन यहां यह हो रहा है कि बधियाकरण के बाद उन्हें हाउस से बाहर निकाल दिया जाता है। कुछ डॉग उसी परिसर में घूमते रहते हैं।
कम्पांउडर कर रहे ऑपरेशन
जानकारों का कहना है कि डॉग हाउस में सर्जरी मौजूद कम्पाउंडर कर रहे हैं, यहां डॉक्टर सिर्फ मौजूद रहते हैं। गौरतलब है कि केन्द्र के शुरूआत में डॉक्टर मौजूद थे लेकिन कोरोना काल में डॉक्टर नहीं थे, उसके बाद यहां पुन: डॉक्टर आए हैं।
परिसर में घूमते हैं डॉग
डॉग रखने की जगह नहीं होने की वजह से वे केन्द्र के परिसर में घूमते रहते हैं। हाल ही में यह देखने आया कि परिसर में दो-तीन कुत्ते घूम रहे थे, जो गेट के नीचे से निकलने के प्रयास में थे। इन कुत्तों की गर्दन गेट में फंस गई थी, जहां कुछ लोगों ने मदद करके उनकी गर्दन निकलवाई और उन्हें गेट के अंदर किया।
सुबह के बाद लग जाता है ताला
यह केन्द्र केवल सुबह के समय ही खुलता है। शेष समय में यहां ताला लगा रहता है। जानकार कहते हैं कि एकांत में केन्द्र होने की वजह से यहां कोई देखने नहीं आता है कि डॉग को भोजन-पानी मिल रहा है कि नहीं।
18 सर्जरी का दावा
निगम के जिम्मेदारों का कहना है कि प्रतिदिन करीब 18 सर्जरी की जा रही है। सर्जरी के बाद इन डॉग को रखा जाता है और उसके बाद उन्हें चार दिन बाद उनकी जगह पर छोड़ा जा रहा है।
ऑफ दी रेकॉर्ड : जिम्मेदारों की यह दलील है कि डॉग लवर से निगम का अमला परेशान हो गया है। कुत्तों को पकड़ते ही वे विरोध करने लगते हैं। कई बार विवाद की भी स्थिति बनी है। एेसी दशा में बधियाकरण प्रभावित हो रहा है।
ये है नियम
- डॉग हाउस में बधियाकरण के बाद चार डॉग को रखना।
- ऑपरेशन के बाद डॉग को पोस्ट केयर ट्रीटमेंट।
- डॉग को उनकी पकड़ी जाने वाली जगह पर छोडऩा।
- चार दिन तक डॉग को प्रिक्शनली भोजन देना।
डॉग हाउस की व्यवस्थाएं चौपट, भागने की तैयारी में डॉग
केन्द्र में डॉग रखने की समुचित व्यवस्था नहीं, बधियाकरण के बाद वहीं छोड़ दिए जाते हैं डॉग, भोजन-पानी का पता नहीं
- डॉग हाउस में डॉग को रखने की व्यवस्था बना ली गई है। कोरोना काल में केन्द्र बंद था लेकिन वापस शुरू हो गया है। यहां महीने में करीब छह सौ नसबंदी हो जाती है।
भूपेन्द्र सिंह, स्वास्थ्य अधिकारी, नगर निगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Corona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.35 लाख केस, 871 की मौत, संक्रमण दर हुई 13.39%UP Assembly Election 2022: सपा के बाद अब बीजेपी ने भी खोले पत्ते, जातीय समीकरण साध विपक्ष की गणित बिगाड़ने की कोशिशUP Assembly Elections 2022: भाजपा ने किसानों से झूठा वादा किया, उन्हें धोखा दिया, प्रेस कांफ्रेंस में बोले अखिलेशदिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म, आज से नई गाइडलाइंस के साथ मेट्रो सेवाएं शुरूमुस्लिम वोटों को लुभाने के लिए बसपा ने किया बड़ा खेल, बाकी हैराननहीं बदला जाएगा नौकरशाही का मुखिया, एक्सटेंशन के लिए फाइल सरकार ने केंद्र को भेजीCISF Recruitment 2022: सीआईएसएफ में फायरमैन कांस्टेबल के लिए बंपर भर्ती, 12वीं पास आज से करें आवेदनखतरनाक साइड इफैक्ट : इलाज के बाद ठीक हुए मरीजों पर आइआइटी का शोध, खराब हो रहे ये अंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.