‘प्रधानमंत्री जी-मेरे पिता के हत्यारों को सलाखों के पीछे पहुंचाएं’

‘प्रधानमंत्री जी-मेरे पिता के हत्यारों को सलाखों के पीछे पहुंचाएं’

Santosh Kumar Singh | Publish: Mar, 31 2019 12:08:39 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जीसीएफ के जूनियर वक्र्स मैनेजर एससी खटुआ की हत्या के मामले में बेटी ने लिखा मार्मिक पत्र

जबलपुर. जीसीएफ में जूनियर वक्र्स मैनेजर शारदा चरण खटुआ की हत्या का प्रकरण अब तक रहस्य है। परिवार की छोटी बेटी ने पीएम नरेंद्र मोदी को सम्बोधित एक मार्मिक पत्र लिखा है। इसमें उसने इसे हाइप्रोफाइल और देश की सुरक्षा से जुड़ा प्रकरण बताते हुए पिता के हत्यारों को सजा दिलाने की मांग की है।
जेडब्लूएम जीएस खटुआ की छोटी बेटी बबली उर्फ श्रावनी ने इस बार दसवीं की परीक्षा दी है। उसकी बड़ी बहन श्वेता उर्फ डबली कोटा में मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रही है। मां मौसमी के साथ रह रही श्रावनी ने पीएम को ये पत्र लिखा है।

पत्र में कहा, देश की सुरक्षा से जुड़ा मसला है

श्रावनी ने पीएम को लिखे पत्र में कहा है कि ‘धनुष तोप बेयरिंग प्रकरण देश की सुरक्षा से जुड़ा मसला है। इसमें जीसीएफ में कार्यरत उच्च स्तर के अधिकारी जुड़े हैं। उसके पिता ने सीबीआइ अधिकारियों के सामने उनके नामों का खुलासा किया था, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। फिर उसके पिता को साजिश रच कर बड़ी ही बेरहमी से रास्ते से हटा दिया गया।’ खटुआ की हत्या की जांच के लिए एसआइटी गठित हुई है, लेकिन अब तक ऐसा एक भी क्लू नहीं मिला। जिससे इस हत्याकांड की परतें खोली जा सके।
ये है मामला
धनुष तोप बेयरिंग प्रकरण में सीबीआई ने 2017 में मामला दर्ज किया था। इस प्रकरण में जीएस खटुआ के बयान होने थे। इसके लिए जीएस खटुआ को 18 जनवरी को दिल्ली स्थित सीबीआई मुख्यालय तलब किया गया था। इसकी सूचना खटुआ को 16 की शाम को मिली थी। बयान के लिए दिल्ली न पहुंच पाने की सूचना अधिवक्ता के माध्यम से मेल कराने की बात कहकर वह घर से 17 जनवरी की सुबह निकले थे। लेकिन, 19 दिन बाद पांच फरवरी को पाटबाबा की पहाड़ी के पीछे पत्थरों के खोह में उनकी लाश मिली थी। जांच के एसआइटी गठित है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned