इस शहर में दीपावली पर चमक रही ऑफर की बिजली

जबलपुर में पुष्य नक्षत्र और धनतेरस की तैयारियों में जुटे कारोबारी, कपंनियों को भी अच्छे कारोबार की उम्मीद

 

By: shyam bihari

Published: 29 Oct 2020, 11:09 PM IST

जबलपुर। नवरात्र पर मिले बूम के बाद जबलपुर के कारोबारी अब पुष्य नक्षत्र और धनतेरस की तैयारियों में जुट गए हैं। नया स्टॉक जुटाया जा रहा है। कंपनियां ग्राहकों को लाभ पहुंचाने वाले आकर्षक ऑफर निकालने जा रही हैं। यह त्योहारों से लेकर आगामी शादियों के सीजन तक जारी रह सकते हैं। कुछ ऑफर अभी आ चुके हैं। नवरात्र में प्रमुख क्षेत्रों में 180 से 200 करोड़ का कारोबार हुआ था। अब दिवाली पर इसे दोगुना करने की रणनीति कंपनियां बना रही हैं। कोरोना संक्रमण की वजह से आर्थिक गतिविधियां ठप हो गई थीं। इसका असर शहर के कारोबार पर भी पड़ा था। लेकिन अब उसमें सुधार हो रहा है। नवरात्र पर 60 से 70 फीसदी तक कारोबार चला। सराफा हो या ऑटोमोबाइल हर क्षेत्र में अच्छी बिक्री हुई। रियल इस्टेट, इलेक्ट्रॉनिक्स, कपड़ा और सजावटी वस्तुओं का व्यापार भी अपेक्षाओं के अनुरूप रहा। दीपावली पर सभी अच्छे कारोबार की उम्मीद लगा रहे हैं। इसलिए उन्होंनें इसकी व्यापक तैयारियां शुरू कर दी हैं। बाजार में शोरूम नई चीजों से सज चुके हैं।
विलासिता की वस्तुएं बिकेंगी
अर्थशास्त्री प्रो. शैलेष चौबे ने बताया कि कोरोना की वजह से व्यक्ति खाद्य वस्तुओं तक सीमित था लेकिन अब विलासिता की वस्तुओं की तरफ भी उसका रुझान बढेग़ा। नवरात्र के मार्केट में इसका असर दिखाई दिया। ऑटोमोबाइल, सराफा और इलेक्ट्रॉनिक मार्केट अच्छा था। अब पिछले 4-5 महीनों में खर्चों को बचाकर रखने वाले लोग खरीदी करेंगे। कंज्यूमर गुड्स की बिक्री सबसे अधिक होगी। यह पिछले साल इन्हीं महीनों में होने वाली खरीदी से अधिक हो सकती है। इसी प्रकार कंपनियां भी कई तरह के ऑफर लाएंगी। यह बहुत अधिक लाभकारी नहीं लेकिन आकर्षक होंगे।
यह है स्थिति
- नवरात्र पर शहर में 180-200 करोड़ का कारोबार हुआ।
- पिछले साल धनतेरस पर 300 करोड़ रुपए का व्यापार।
- इस साल 250-280 करोड़ के कारोबार का अनुमान।
- ऑटोमोबाइल, रियल इस्टेट व ज्वेलरी रह सकता है टॉप पर।
इस तरह के ऑफर
- कम ईएमआइ पर खरीदी।
- बड़ी खरीदी पर चीजें मुफ्त।

- ज्वेलरी पर बनवाई शुल्क कम।
- वारंटी और गारंटी पीरियड ज्यादा।
- ई-वॉलेट से पेमेंट पर छूट।
- कम डाउन पेमेंट में बड़ी खरीदी।

Show More
shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned