ऑटोनॉमस कॉलेजों की स्पेशल कैटेगरी पर कैंची, लेनी होंगी विश्वविद्यालय की परीक्षाएं

जबलपुर के रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय प्रशासन ने लिया निर्णय

जबलपुर। ऑटोनामस कॉलेजों को अब जबलपुर शहर में नई जिम्मेदारी सौंपी जा रही है। इन्हें अब विश्वविद्यालय की परीक्षाएं भी करानी होंगी। अभी तक इन महाविद्यालयों को विश्वविद्यालय से कुछ लेना देना नहीं होता था। परीक्षाओं की नई व्यवस्था में पर्याप्त स्थान की आवश्यकता के चलते इन्हें उक्त जिम्मेदारी दी जा रही है। इसमें कोई कॉलेज असहयोग करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय प्रशासन ने उक्त प्लानिंग की है।

विवि प्रशासन ने शासकीय ऑटोनामस साइंस कॉलेज, शासकीय ऑटोनॉमस महाकोशल कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय, शासकीय ऑटोनॉमस होमसाइंस कॉलेज, शासकीय स्वशासी मानकुंवरबाई कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय को जवाबदेही सौंपी जा रही है। अन्य जिलों में भी ऐसी जिम्मेदारी दी गईं हैं। इसके अलावा शासकीय प्रांतीय शिक्षा महाविद्यालय को भी परीक्षाओं के लिए अधिकृत किया है।
21 नए परीक्षा केंद्र
विवि प्रशासन ने इस बार 21 नए परीक्षा केंद्र तैयार किए हैं। इस तरह अब विश्वविद्यालय अंतर्गत सभी आठ जिलों में 92 परीक्षा केंद्र होंगे। नए केंद्रों में 6 स्कूलों को भी पहली बार शामिल किया है। स्नातक और स्नातकोत्तर की परीक्षाएं 29 जून से 31 जुलाई तक चलेंगी। स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं और पाठ्यक्रमों के फाइनल इयर, सेमेस्टर की परीक्षाएं ऑफ लाइन मोड में परीक्षा केन्द्रों पर होगी। प्रभारी कुलसचिव डॉ. दीपेश मिश्रा ने बताया कि ऑटोनॉमस कॉलेजों को भी विश्वविद्यालयीन परीक्षाओं के लिए अधिकृत किया जा रहा है। ये ऑटोनॉमस कॉलेज दूसरी शिफ्ट में विवि के छात्रों की परीक्षाएं कराएंगे। नए परीक्षा केंद्रों का निर्धारण भी किया गया है।

जितेंद्र तिवारी Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned