हाईकोर्ट चीफ जस्टिस के बंगले में घुसा संदिग्ध युवक, ड्यूटी पर तैनात सभी गार्ड सस्पेंड

हाईकोर्ट चीफ जस्टिस के बंगले में घुसा संदिग्ध युवक, ड्यूटी पर तैनात सभी गार्ड सस्पेंड
Suspected entering the residence of HC Chief Justice, guards suspended

Abhishek Dixit | Updated: 04 Jun 2019, 07:00:26 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

आरोपी की मानसिक हालत ठीक नहीं

जबलपुर. मप्र हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के बंगले की सुरक्षा में सोमवार को एक युवक ने सेंध लगा दी। आरोपी सशस्त्र सुरक्षा गार्ड को चकमा देकर बंगले के अंदर घुस गया। बंगले के अंदर संदिग्ध युवक को देख सुरक्षा कर्मियों सहित पूरे पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया। घटना के बाद सीजे बंगले में तैनात सुरक्षा अमले के पांच एसएएफ जवानों को एसपी ने निलम्बित कर दिया। आरोपी के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में 456 का प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

सिविल लाइंस पुलिस के अनुसार हाईकोर्ट चीफ जस्टिस बंगले में एसएएफ के जवानों की पांच सदस्यीय टीम सुरक्षा के लिए 24 घंटे तैनात रहती है। सोमवार रात 7.30 बजे सुरक्षा कर्मियों को चकमा देकर आरोपी रीवा निवासी राजलाल साकेत बंगले की दीवार फांद कर अंदर घुस गया। सुरक्षा कर्मियों की नजर पड़ी, तब तक वह बंगले के बरामदे तक पहुंच चुका था। इसके बाद सुरक्षा गार्डों ने उसे दबोच लिया। सीजे के बंगले में संदिग्ध युवक के घुसने की खबर मिलते ही हड़कम्प मच गया। मौके पर टीआइ सिविल लाइंस प्रवीण धुर्वे बल के साथ पहुंचे और आरोपी को हिरासत में ले लिया।

मानसिक रूप से बीमार है युवक
टीआइ के मुताबिक गिरफ्त में आए युवक की मानसिक स्थित ठीक नहीं है। राजलाल साकेत के खिलाफ एसएएफ आरक्षक नीलेश चौहान की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया। बंगले की सुरक्षा में 23वीं
बटालियन की एक-चार की गार्ड लगी थी। जिसमें हवलदार राय सिंह, आरक्षक नीलेश चौहान, उमेश यादव, शंकर सोलंकी व संतोष दांगी शामिल हैं। सभी को निलम्बित करते हुए उनके खिलाफ विभागीय जांच के लिए उच्चाधिकारियों को पत्र लिखा गया है।

सीजे बंगले की बढ़ायी गई सुरक्षा
एसपी अमित सिंह ने बताया कि घटना की गंभीरता देखते हुए सीजे बंगले की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एसएएफ के अलावा लाइन से भी एक-चार का बल लगाया गया है। हाईकोर्ट के अन्य जज बंगलों की सुरक्षा भी कड़ी करने के निर्देश दिए गए हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned