चार महीने बाद दो महीने तक हुई जांच, फिर से बंद

चार महीने बाद दो महीने तक हुई जांच, फिर से बंद
Victoria District Hospital

Sanjay Umrey | Updated: 17 Jun 2019, 11:00:00 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जिला अस्पताल में नहीं हो पा रही थायराइड जांच

जबलपुर। विक्टोरिया जिला अस्पताल चार महीने बाद शुरू हुई थायराइड जांच की प्रक्रिया दो महीने तक चली और उसके बाद फिर बंद हो गई। करीब एक महीने से पैथोलॉजी में जांच के लिए जरूरी किट नहीं है। जांच सामग्री के अभाव में अस्पताल प्रबंधन ने सैम्पल का कलेक्शन भी रोक दिया है। जांच नहीं होने से हर दिन मरीज भटक रहे हैं। उन्हें निजी पैथोलॉजी जाना पड़ रहा है।
लापरवाही से समस्या
जानकारों के अनुसार थायराइड जांच के लिए किट की कमी आपूर्ति नहीं कराए जाने के कारण बन रही है। जब तक स्टॉक रहता है, तब नई किट मंगाई नहीं जाती। स्टॉक समाप्त होने के बाद भंडार विभाग की ओर से किट की आपूर्ति की प्रक्रिया की जाती है। कागजी प्रक्रिया में लेटलतीफी और फिर ऑर्डर के बाद आपूर्ति में वक्त लगने तक जांच ठप हो जाती है।
इस साल की शुरुआत से ही अस्पताल में थायराइड जांच ठप रही। मार्च में किट की दोबारा आपूर्ति हुई। उसके बाद कुछ समय तक जांच हुई। लेकिन, किट का स्टॉक पिछले महीने समाप्त हो गया।
गरीब मरीज परेशान
थायराइट की जांच बंद होने से सबसे अधिक परेशानी गरीब और दूर-दराज के ग्रामीण क्षेत्रों से मरीजों को रही है। उन्हें जांच के लिए भटकना पड़ रहा है। प्राइवेट पैथोलॉजी में जांच कराने पर मोटी फीस चुकाना पड़ रहा है। सरकारी अस्पतालों में जांच नि:शुल्क है।
अस्पताल की स्थिति
- 01 दिन (बुधवार) प्रति सप्ताह जांच
- 80 मरीज हर सप्ताह जांच के लिए आते हैं
- 05 सौ रुपए तक निजी पैथोलॉजी में जांच फीस
- 01 माह से जांच के लिए कलेक्शन बंद
प्रक्रिया चल रही है
थायराइड जांच किट नहीं होने की वजह से बंद है। किट मंगाने की प्रक्रिया चल रही है।
डॉ. मुरली अग्रवाल, सीएमएचओ

यहां नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच की
सर्वोदय नगर में सर्व ईसाई महासभा जबलपुर एवं अनंत अस्पताल के तत्वावधान में नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया गया। शिविर का शुभारंभ रेव्ह जी यैसैया एवं जी स्टेनली सुकुमार की प्रार्थना के साथ हुआ। उत्तर मध्य विधायक विनय सक्सेना ने कहा कि पीडि़त मानवता की सेवा परम धर्म है। शिविर में लगभग 500 मरीजों का नि:शुल्क परीक्षण किया गया। आवश्यकतानुसार मरीजों को नि:शुल्क दवाओं का वितरण भी किया गया। इस दौरान धीरज पटेरिया, डेविड फ्रांसिस, रॉनी सॉल्वी, आशीष सालोमन, विनोद चेंबर, डेंजिल आंग्रे, ममतल सालोमन, शान कुमार, राहुल पचौरी आदि मौजूद थे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned