जबलपुर में कोरोना संक्रमित मरीज ने उपचार के दौरान दम तोड़ा, मौत के बाद हडक़म्प

जबलपुर में कोरोना संक्रमित मरीज ने उपचार के दौरान दम तोड़ा, मौत के बाद हडक़म्प

 

By: Lalit kostha

Published: 23 Jul 2021, 12:44 PM IST

जबलपुर। शहर में कई दिन बाद कोरोना से एक महिला की मौत पर हडक़म्प मच गया। संक्रमित महिला की मौत की जानकारी आते ही स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया। एहतियातन संक्रमित के परिजन, सम्पर्क में आए लोगों सहित पड़ोसियों के फौरन नमूने लिए गए। फौरी जांच में संक्रमित के निकट सम्पर्क के किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं।
महिला के डेल्टा प्लस वैरिएंट से पीडि़त होने की जानकारी को भी स्वास्थ्य अधिकारियों ने अफवाह बताया है। रांझी निवासी 82 वर्षीय महिला का स्वास्थ्य खराब होने पर परिजन दो दिन उसे लेकर राइट टाउन स्थित एक निजी अस्पताल गए थे। हालत गंभीर होने पर महिला को वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। जहां, उपचार के दौरान बुधवार की देर रात को महिला की मौत हो गई। अस्पताल प्रबंधन के अनुसार महिला कई गंभीर बीमारियों से पीडि़त थी। उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव थी।

भ्रामक सूचना से घबराए लोग
गुरुवार को यह अफवाह फैल गई कि रांझी-मानेगांव क्षेत्र में कोरोना से दो मौत हुई है। इन्हें डेल्टा प्लस वैरिएंट का संक्रमण था। स्वास्थ्य अधिकारियों के पास फोन घनघनाने लगे। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने जांच और सेम्पलिंग टीम को मौके पर भेजा। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार क्षेत्र में कोरोना संक्रमित एक महिला की मौत की ही पुष्टि हुई। उसके संपर्क में आए नजदीकी लगभग 30 लोगों के नमूने लेकर रैपिड टेस्ट किए। इसमें कोई भी पॉजिटिव केस नहीं मिला।

444 व्यक्तियों के नमूने लिए
स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गुरुवार को रांझी-मानेगांव क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के फैलाव की जानकारी जुटाने के लिए 444 व्यक्तियों के नमूने लिए। इसमें 250 नमूने के रैपिड टेस्ट और 194 नमूने आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भेजे हैं। जबलपुर में मेडिकल कॉलेज से अभी तक सिर्फ छह नमूने ही डेल्टा वैरिएंट की जांच के लिए दिल्ली स्थित लैब में भेजे गए हैं। इनकी रिपोर्ट आने में अभी लगभग एक महीने लग सकते हैे। इस रिपोर्ट से डेल्टा वैरिएंट की उपस्थिति की जानकारी प्राप्त हो सकेगी।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned