नाबालिग आदिवासी लड़की के साथ गैंग रेप, अस्पताल में नवजात जो जन्म देने के बाद हुआ खुलासा

इस पूरे मामले में बस्तर एसपी दीपक कुमार झा का कहना है कि पीड़िता अभी ज्यादा कुछ बता नहीं पा रही है शुरुआती बयान में उसने जिन तीन युवकों का नाम लिया है उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है अभी उनका शिनाख्त होना बाकी है । हालांकि एसपी ने गैंग रेप की बात से इंकार किया है ।

By: Karunakant Chaubey

Published: 18 Oct 2020, 03:48 PM IST

जगदलपुर. शहर से लगे क्षेत्र की आदिवासी नाबालिग किशोरी के साथ सामूहिक गैंगरेप की घटना सामने आई है । मामले का खुलासा तब हुआ जब नाबालिक अस्पताल में नवजात को जन्म दिया । नाबालिग के परिजनों के अनुसार करीब 9 महीने पहले युवती अपने किसी रिश्तेदार के यहां शादी में गई हुई थी ।

इसी दौरान आरोपियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया । पुलिस ने इस मामले के खुलासे के बाद शनिवार को धारा 376 और पास्को एक्ट के तहत केस दर्ज किया और इस घटना में शामिल तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया ।

गैंगरेप के बाद पीडिता ने लगा ली फांसी, पिता द्वारा आत्महत्या के प्रयास के बाद टूटी प्रशासन की नींद

इस पूरे मामले में बस्तर एसपी दीपक कुमार झा का कहना है कि पीड़िता अभी ज्यादा कुछ बता नहीं पा रही है शुरुआती बयान में उसने जिन तीन युवकों का नाम लिया है उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है अभी उनका शिनाख्त होना बाकी है । हालांकि एसपी ने गैंग रेप की बात से इंकार किया है ।

उनका कहना है कि शुरुआती पड़ताल में यह बात सामने आई है कि इन लोगों ने अलग-अलग समय पर पीड़ित के साथ बलात्कार किया है । जबकि पीड़ित के परिजनों का कहना है कि उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है ।

आपको बता दें कि बीते दिनों कोंडागांव जिले के केशकाल में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था जिसमें पीड़िता ने घटना के बाद खुदकुशी कर ली थी और परिजन ने दबाव में आकर उसका शव भी दफना दिया। यह मामला तब उजागर हुआ था जब पीडि़ता के पिता ने न्याय न मिल पाने की विवशता जताते हुए जब अपनी भी जान देने कोशिश की ।

ये भी पढ़ें: सहेलियों को फोन पर बात करने से रोका तो घर से हुई फरार, 4 दिन बाद झाड़ियों में मिली लाश

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned