1.96 लाख परिवार पंजीकृत, 31 मई तक होंगे रजिस्ट्रेशन

- राशन के लिए प्रवासी मजदूरों व विशेष श्रेणी के लोगों का चल रहा सर्वे

- ग्रामीण क्षेत्र से 1.23 लाख व शहरी क्षेत्र से 73 हजार परिवारों ने पंजीकरण करवा लिया है

By: Sunil Sisodia

Published: 29 May 2020, 02:01 PM IST

जयपुर।

लॉकडाउन के कारण बेरोजगार हुए जरुरतमंद लोगोंं, प्रवासी मजदूरों का राशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 31 मई तक ही होगा। 27 मई तक 1.96 लाख लोग ऑनलाइन लोग पंजीकरण करवा चुके हैं। पंजीकरण करवाने वाले लोगों में ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र के हैं। ग्रामीण क्षेत्र से 1.23 लाख व शहरी क्षेत्र से 73 हजार परिवारों ने पंजीकरण करवा लिया है। इनमें से भी ज्यादातर लोगों ने ई-मित्र के माध्यम से पंजीकरण करवाया है।


नागौर से सबसे ज्यादा परिवारों ने करवाया पंजीकरण
प्रदेश में नागौर जिले से सबसे ज्यादा लोगों ने पंजीकरण करवाया है। यहां अभी तक 29,902 परिवारों ने पंजीकरण करवाया है, इनमें से 4863 परिवार में प्रवासी मजदूर लौटकर आए हैं। वहीं, सबसे कम प्रतापगढ़ जिले में 297 परिवार रजिस्टर हुए हैं। इनमें से भी प्रवासी केवल 18 ही हैं।


15 जून से मिलेगा राशन
31 मई को रजिस्ट्रेशन बंद हो जाने के बाद पंचायत से लेकर निकाय स्तर की कमेटियां खाद्य सुरक्षा सूची, जनआधार कार्ड आदि से परिवारों की पात्रता की जांच करेगी। इसके बाद 15 जून से राशन मिलना शुरू हो जाएगा। राशन उचित मूल्य की दुकानों से प्रति व्यक्ति पांच किलो गेहूं व प्रति परिवार को एक किलो चने के हिसाब से मिलेंगे। गेहूं दो महीने तक मिलेगा।

Sunil Sisodia Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned