CM Gehlot और मंत्रियों के बंगलों तक नई पेयजल लाइन पर अडंगा

नगर निगम ने अब तक नहीं दी रोड कट की अनुमति

जयपुर। सिविल लाइन्स में मुख्यमंत्री सहित सभी मंत्रियों के आवास तक नई पेयजल लाइन लाइन बिछाने में नगर निगम अडंगा लगा रहा है। जलदाय विभाग ने पेयजल लाइन बिछाने के लिए निगम से अनुमति मांगी और इसके लिए पहली किश्त के रूप में 15 लाख रुपए जमा भी करा दिए लेकिन अभी तक स्वीकृति नहीं मिली। इससे काम शुरू नहीं हो पा रहा है। जलदाय विभाग ने यहां चार फेज में काम करेगा। पहले फेज में राजभवन सर्किल से गौरव नगर तक और दूसरे फेज में सिविल लाइन्स फाटक से राजभवन सर्किल तक काम होना है। विभाग ने मुख्यमंत्री और मंत्रियों के सरकारी आवास तक लाइन ले जाने का प्लान बनाया हुआ है। पहले यह काम 4 से 9 दिसम्बर के बीच होना था। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री और मंत्रियों के आवास पर चौबीस घंटे पेयजल सप्लाई की जा रही है। अभी लाइन कई जगह से जर्जर हो चुकी है, जिसके कारण लीकेज भी हो रहा है।

टंकी भी होगी जमींदोज
मुख्यमंत्री आवास के पास बनी पानी की जर्जर टंकी भी जमींदोज होगी। जलदाय विभाग के प्रस्ताव को सार्वजनिक निर्माण विभाग कुछ दिन पहले ही हरी झंडी दे चुका है, जिसके बाद 6.35 लाख रुपए की तकनीकी स्वीकृति जारी की गई। सिविल लाइन्स फाटक के पास बनी इसी टंकी से मुख्यमंत्री, राज्यपाल आवास से लेकर मंत्रियों के सरकारी बंगलों में पेयजल सप्लाई की जा रही है। यह टंकी सीएम हाउस से करीब 150 मीटर दूरी पर ही है और इसकी निर्धारित लाइफ पूरी हो चुकी है। कई जगह से जर्जर हालत भी हैं। यहां नई लाइन बिछाने का काम भी इसी के तहत हो रहा है।

Bhavnesh Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned