VIDEO: राजस्थान के चर्चित रकबर मामले में अब आया नया मोड़, विसरा रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा

nakul devarshi

Publish: Sep, 16 2018 01:07:32 PM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर/अलवर/रामगढ़।

बहुचर्चित रकबर हत्याकांड ( Alwar Rakbar Mob Lynching Case ) मामले में पुलिस ने शनिवार को सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट रामगढ़ प्रकाशचंद मीणा की कोर्ट में पुलिस ने रकबर की Visra Report पेश की। रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब न्यायाधीश ने प्रकरण में बहस के लिए 18 सितम्बर की तारीख पेशी तय की है।

 

रामगढ़ के ललावंडी में कथित मॉब लिंचिंग के मामले में पुलिस ने 7 सितम्बर को न्यायालय में 25 पेज की चार्जशीट पेश की थी। पुलिस ने तीन आरोपितों के खिलाफ पूर्ण चार्जशीट पेश की, जबकि दो लोगों के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 173 (8) में जांच लम्बित रखते हुए अनुसंधान जारी रखा। पुलिस ने विसरा रिपोर्ट पेश करने के लिए न्यायालय में एक माह की अंडरटेकिंग दी थी।

 

सविल न्यायालय के सहायक अभियोजन अधिकारी मुकेश करोल ने बताया कि न्यायालय ने15 सितम्बर को पुन: विसरा रिपोर्ट पेश करने की तारीख तय की थी। रामगढ़ थानाधिकारी ने शनिवार को न्यायालय के समक्ष रकबर की विसरा रिपोर्ट पेश की । इस दौरान आरोपी रामगढ़ के ललावंडी निवासी परमजीत सिंह, धर्मेन्द्र यादव और नरेश कुमार को भी अलवर जेल से लाकर न्यायालय में पेश किया गया। बहस सुनने के बाद रामगढ़ न्यायालय प्रकरण को सैशन न्यायालय द्वारा विचारणीय मानते हुए आगामी तारीख पेशियों के लिए वहां में भेज सकता है।

 

विधायक ने बयान दिया था कि जहर खाने से हुई मौत
मामले में जिले के एक भाजपा विधायक ने बयान दिया था कि रकबर की मौत जहर खाने से हुई थी। जबकि रकबर की विसरा रिपोर्ट नेगेटिव आई है। विशेषज्ञों के अनुसार रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई है कि रकबर ने विषाक्त पदार्थ नहीं खाया था। गौर तलब है कि रकबर और एक साथी असलम को 20 जुलाई की रात को गाय ले जाते रामगढ़ के ललावंडी गांव में भीड़ ने रोक कर पिटाई कर दी थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned