दवाई, ऑक्सीजन आवंटन में प्रदेश के साथ न्याय करे केन्द्र - डॉ जोशी

विधानसभा में सरकारी मुख्य सचेतक एवं विधायक हवामहल डॉ. महेश जोशी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्र सरकार से कोरोना महासमर में वैक्सिन, रेमडेसीवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन के मामलों में राजस्थान की जनता के साथ न्याय करने की मांग की है।

By: Ashish

Published: 23 Apr 2021, 07:51 PM IST

जयपुर
विधानसभा में सरकारी मुख्य सचेतक एवं विधायक हवामहल डॉ. महेश जोशी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्र सरकार से कोरोना महासमर में वैक्सिन, रेमडेसीवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन के मामलों में राजस्थान की जनता के साथ न्याय करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि केन्द्र सरकार की भेदभावपूर्ण आवंटन नीति के कारण राजस्थान में कोरोना प्रबन्धन में तकलीफे आ रही है जिन्हें केन्द्र सरकार को तुंरत प्रभाव से दूर करना चाहिए। प्रधानमंत्री को देश की समस्त जनता को चाहे वो किसी भी राज्य की हो या वहां किसी भी पार्टी की सरकार हो, बिना किसी भेदभाव के एक समान एक निगाह से देखना चाहिए। जोशी ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बंगाल चुनावों में अपनी आगामी चुनावी रैलियों को रद्द करने की घोषणा को देरी से उठाया गया एक सही कदम बताया है। जोशी ने कहा कि यह कदम यदि प्रधानमंत्री ने पहले उठाया होता तो कांग्रेस नेता राहुल गांधी की जगह प्रधानमंत्री स्वयं इसके रोल मॉडल होते। डॉ. जोशी ने मांग की है कि केन्द्र सरकार पूरे देश को मुफ्त अथवा एक समान दर पर कोरोना की वैक्सीन मुहैया करवाए।

राहुल गांधी का अनुसरण कर रहे हैं मोदी
जोशी ने अपने बयान में कहा कि प्रधानमंत्री लगातार कांग्रेस नेता राहुल गांधी जी का अनुसरण कर रहे हैं। चाहें बंगाल की चुनावी रैलियां रद्द करने का निर्णय हो या टैस्टिंग बढाये जाने की बात हो, या फिर परीक्षाऐं रद्द करने की मांग हो। हालांकि गांधी की हर मांग का शुरू में भाजपा एवं केन्द्र सरकार द्वारा विरोध किया गया लेकिन बाद में उन्हीं बातों का अनुसरण कर श्रेय प्रधानमंत्री मोदी एवं भाजपा सरकार लेने की कोशिश करते हैं।

राहुल गांधी ने सबसे पहले चेताया
डॉ. जोशी ने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने ही वर्ष 2020 में सबसे पहले कोरोना के खतरे के बारे में चेताते हुए ट्वीट किया था लेकिन उस समय सरकार ने इस चेतावनी को गंभीरता से नहीं लिया, जिसका खामियाजा पूरे देश को अब तक उठाना पड़ रहा है। यहीं नहीं कोविड के सम्बन्ध में आज स्थिति यह हो गई है कि प्रधानमंत्री की घोषणाओं को जनता गंभीरता से नहीं लेती है और कांग्रेस नेता राहुल गांधी एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्णयों एवं कार्यक्रमों की घोषणाओं का इंतजार कर उसके अनुरूप अपने आप अनुशासन में रहने की कोशिश कर रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned