केंद्र सरकार का प्रयास पोषण सुरक्षा पर केंद्रित

 

वर्चुअल बैठक आयोजित

By: Rakhi Hajela

Published: 09 Jun 2021, 08:54 PM IST

जयपुर, 9 जून
राष्ट्रीय बीजपरियोजना और स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय की ओर से खरीफ 2021 के लिए बीज.उत्पादन की समीक्षा बैठक कुलपति प्रो. आरपी सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई। प्रो.सिंह ने बताया कि अधिक उत्पादन के साथ साथ गुणवत्ता, हर केवीके पर क्रॉप कफेटेरिया, विश्वविद्यालय के दो संकर किस्मों और अन्य नई किस्मों के प्रचार प्रसार सहित, बीज उत्पादन के लक्ष्य 25 फीसदी बढ़ाने जैसे मुद्दों पर वार्ता की गई। कृषि क्षेत्र में नवीनतम प्रोद्यौगिकी के प्रसार में बीज की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका है। किसानों की कड़ी मेहनत सरकार की कृषि विकास नीति के साथ कृषि तकनीकी का विकास और बीज क्रांति के परिणाम स्वरूप आज भारत विश्व के अग्रणी देशों की श्रेणी में शामिल है। वर्ष 2020 -21 में खाद्यान्न की अनुमानित पैदावार 305 मिलियन टन अपनेआप में एक रिकॉर्ड है। खाद्यान्न के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होने के बाद वर्तमान में केंद्र सरकार का प्रयास खाद्य सुरक्षा के साथ.साथ पोषण सुरक्षा पर केंद्रित है। साथ ही फसल उत्पादन व उत्पादकता में वृद्धि के साथ.साथ मूल्य संवर्धन उद्यमिता विकास उचित विपणन व्यवस्था आदि के द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य है।राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, तिलहन मिशन, बागवानी मिशन आदि विकासात्मक कार्यक्रमों की सफलता अच्छी गुणवत्ता वाले बीज और रोपण सामग्री की उपलब्धता पर निर्भर करती है। वर्तमान में बीज प्रतिस्थापन दर को बढ़ाने के लिए सरकार द्वाराबीज क्षेत्र के सुदृढ़ीकरण पर जोर दिया जा रहा है। अतिरिक्त निदेशक बीज डॉ.एनके शर्मा ने बीज उत्पादन व डीएसी इंडेंट व अलॉटमेंट खरीफ 2021 पर रिपोर्ट प्रस्तुत की। वर्चुअल बैठक के दौरान समस्त केन्द्रों के फार्म प्रभारियों ने खरीफ 2020 के दौरान बीज उत्पादन से संबंधित उपलब्धियां और आगामी खरीफ 2021 के कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की । वर्चुअल बैठक के अनुसंधान निदेशक डॉ. पीएस शेखावत, निदेशक प्रसार डॉ. एसके शर्मा सहित विश्वविद्यालय के अधीनस्थ समस्त अनुसंधान केंद्रों,कृषि विज्ञान केंद्र के निदेशकोंं प्रभारियों और वैज्ञानिकों ने भाग लिया।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned