खुले में शराब पीने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसा

जयपुर. कोरोना काल के दौरान सामूहिक रूप से सार्वजनिक स्थान पर (crime news jaipur) शराब पीने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसा। पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है

By: vinod sharma

Published: 29 Jul 2020, 10:46 AM IST

जयपुर. कोरोना काल के दौरान सामूहिक रूप से सार्वजनिक स्थान पर (crime news jaipur) शराब पीने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसा। पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बजाज नगर पुलिस को सूचना मिली कि हिम्मत नगर के प्लाट में शराब पार्टी की जा रही है। जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची। सभी आरोपी कोरोनाकाल में सामाजिक दूरी की पालना करते भी नजर नहीं आए। जिस पर पुलिस ने मौके से पुष्पेन्द्र, छैला राम, सतीश, धमेन्द्र, चेतक, स्वपनजीत, रामराज, मुकेश तथा अन्य को गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी प्रकाश राम विश्नोई ने बताया कि सामूहिक रूप से शराब पीने तथा महामारी एक्ट के उल्लंघन का मामला भी दर्ज किया गया है।
मकान पर कब्जा का आरोप
सूने मकान पर कब्जा कर खुद का नाम दीवार पेंट कराने का मामला सामने आया है। इसका पता चलने पर मकान मालिक ने इसका विरोध किया तो बदमाशो ने कहा कि कर लिया कब्जा क्या कर लोगे। इसकी प्राथमिकी करधनी थाने में दर्ज कराई गई। करधनी थाना के विनायक एंकलेव में आरोपियों ने एक सूने मकान पर कब्जा कर लिया। इसका पता चलने पर मकान मालिक मौके पर पहुंचा तब मकान परआरोपियों का नाम पेंट से लिखा हुआ मिला। थोड़ी देरमें आरोपी भी पहुंच गए। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच काफी विवाद हुआ। आरोपियों ने मकान से कब्जा हटाने से मना कर दिया। विनायक एंकलेव की तरफ से आरोपी रामसिंह यादव, राजेश यादव तथा अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।


उदयपुर में कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए क्वारेंटीन सेंटर कम अस्पताल से दो मरीज भाग गए। आज सवेरे जब इसके बारे में अस्पताल प्रबंधन को सूचना मिली तो उन्होनें जिला प्रशासन के अधिकारियों और पुलिस को भी इस बारे में जानकारी दी। सूचना के बाद हडकंप मच गया। दोनो अपने अन्य परिचितों के साथ ही ईएसआई अस्पताल में भर्ती थे। हांलाकि अस्पतला प्रबधंन के कुछ कर्मचारियों ने बताया कि दोनो को जल्द ही पकड लिया जाएगा और दोनो मरीज लगातार संपर्क में बने हुए हैं। गौरतलब है कि जयपुर समेत प्रदेश के अन्य कई जिलों से क्वारेंटीन सेंटर्स या अस्पताल से मरीजों के भागने के दर्जनों मामले सामने आए हैं। जयपुर जिले में दो इस तरह के पांच केस सामने आए हैंं। जिनमें दो केस में तो अस्पताल में ही मरीजों ने सुसाइड़ कर लिया। उधर बताया जा रहा है कि जिस ईएसआई अस्पताल से दोनो मरीज भागे हैं वहां से पहले भी कई बार मरीज भाग चुके हैं। अब यहां पुलिस की और सख्ती करने पर विचार किया जा रहा है।

vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned