राजधानी जयपुर में डेंगू से दस वर्षीय बच्चे की मौत

राजधानी जयपुर में डेंगू से दस वर्षीय बच्चे की मौत

Anil Chauchan | Publish: Mar, 14 2018 04:36:19 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

राजधानी जयपुर में डेंगू से दस वर्षीय बच्चे की मौत

राजधानी जयपुर में डेंगू से दस वर्षीय बच्चे की मौत
जयपुर.
अभी तक जहां स्वाइन फ्लू ने दहशत मचा रखी थी वहीं अब मच्छर जनित रोगों का बढऩा भी शुरू हो गया है। स्वाइन फ्लू के साथ ही अब डेंगू ने भी लोगों की जान लेना शुरू कर दिया है। मंगलवार को राजधानी जयपुर में जवाहर सर्किल स्थित एक निजी अस्पताल में डेंगू से एक दस वर्षीय बच्चे की मौत होने का का मामला सामने आया है। इस साल में राजधानी जयपुर में डेंगू से यह पहली मौत है। हांलाकि प्रदेश के अन्य जिलों में भी पहले ही डेंगू दो लोगों की जान ले चुका है।
गर्मियां बढऩे के साथ ही अब डेंगू और मलेरिया भी स्वास्थ्य महकमे के लिए बड़ी मुसिबत बन गया है। अब तक स्वाइन फ्लू ने स्वास्थ्य विभाग की नाम में दम कर रखा था। खास बात यह है कि स्वाइन फ्लू का वायरस अब गर्मियों में भी सक्रिय रहने लगा हैं, एेसे में विभाग के सामने दोहरी समस्या हो रही है। स्वाइन फ्लू के साथ-साथ अब डेंगू मलेरिया का खतरा भी बढ़ गया है।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी बच्चे की मौत का कारण लिवर खराब हो जाना बता रहे है। जानकारी के अनुसार मालवीय नगर में रहने वाले दस वर्षीय बच्चे को 26 फरवरी को जवाहर सर्किल स्थित एक निजी अस्पताल में बुखार की शिकायत होने के बाद भर्ती कराया था। अस्पताल में की गई जांचों में बच्चे को डेंगू की पुष्ठि हुई और कई दिनों तक उसका उपचार चला, लेकिन लगातार गिरते प्लेटलेट के स्तर को चिकित्सक रोक नहीं सके और मंगलवार को दस वर्षीय बच्चे की मौत हो गई।
बच्चे के परिजन रिपोर्ट के आधार पर मौत डेंगू से ही होना बता रहे है, लेकिन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डेंगू से मौत होने से इंकार कर रहे हैं। विभाग के अधिकारियों ने तर्क दिया है कि बच्चे की मौत लिवर खराब होने से हुई है, लेकिन यह भी तय है कि डेंगू बुखार किडनी, लिवर व हदय पर तेजी से अपना प्रभाव डालता है। बच्चे को डेंगू नहीं था और अस्पताल से हमारी जानकारी में पता चला है कि बच्चे की मौत लिवर खराब होने से हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned