कोरोना के चलते नगर निगम चुनाव में चुनावी रंगत फीकी

राजस्थान में 29 अक्टूबर से दो चरणों में होने वाले छह नगर निगमों के चुनाव ( Elections in 6 Municipal corporation ) में वैश्विक महामारी कोरोना ( Corona ) के चलते चुनाव प्रचार के लिए भीड़ नहीं जुटने एवं चुनावी शोर की कमी के कारण चुनावी रंगत ( Electoral Tone ) फीकी ( Faded ) नजर आ रही हैं। ( Jaipur News )

By: sanjay kaushik

Published: 23 Oct 2020, 11:26 PM IST

-घर-घर जाकर चुनाव प्रचार में जुटे उम्मीदवार

जयपुर। राजस्थान में 29 अक्टूबर से दो चरणों में होने वाले छह नगर निगमों के चुनाव ( Elections in 6 Municipal corporation ) में वैश्विक महामारी कोरोना ( Corona ) के चलते चुनाव प्रचार के लिए भीड़ नहीं जुटने एवं चुनावी शोर की कमी के कारण चुनावी रंगत ( Electoral Tone ) फीकी ( Faded ) नजर आ रही हैं। ( Jaipur News ) राजधानी जयपुर के अलावा जोधपुर एवं कोटा में हो रहे नगर निगम चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद छह निगमों के 560 वार्डों में दो हजार से अधिक उम्मीदवार अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं और इसके लिए चुनाव प्रचार शुरू कर दिया गया, लेकिन कोरोना के चलते चुनाव प्रचार के दौरान कोई बड़ा आयोजन नहीं कर सकने की पाबंदी एवं सोशल डिस्टेंङ्क्षसग की पालना के चलते उम्मीदवार कुछ ही लोगों को साथ लेकर घर-घर जाकर चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। इस दौरान मास्क लगा होने एवं हाथ नहीं मिलाने तथा दूर से ही बातकर चुनाव प्रचार करने तथा लोगों को कोरोना का डर होने के कारण वे उनके चुनाव प्रचार से दूर भाग रहे हैं।

-वार्ड बदलने से भी दिक्कतें

चुनावी किस्मत आजमा रहे कुछ उम्मीदवारों का कहना है कि कोरोना के चलते जहां चुनाव प्रचार में बड़ी दिक्कते आ रही हैं और लोगों को पास जाकर अपने पक्ष में करने के लिए समझाना थोड़ा मुश्किल हो रहा है, वहीं इस बार वार्ड बदलने से भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जयपुर ग्रेटर नगर निगम में वार्ड संख्या चालीस से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रत्याशी विजयपाल ङ्क्षसह ने बताया कि कोरोना गाइडलाइंस के चलते भीड़ के रूप में कहीं भी एकत्रित नहीं हो रहे हैं और घर घर जाकर मतदाताओं से वोट मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि मास्क लगाकर एवं सोशल डिस्टेंङ्क्षसग का पूरा ध्यान रखते हुए अपना चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मतदाताओं के नाम एवं नंबर लेकर उनसे फोन पर भी संपर्क बनाए हुए हैं।

-सोशल मीडिया बड़ा सहारा

इसी तरह अन्य उम्मीदवारों का कहना है कि वे घर-घर जाकर संपर्क में लगे हुए हैं और सोशल मीडिया के जरिए अपने चुनाव प्रचार पर ज्यादा जोर दे रहे हैं। इस बार चुनाव में प्रत्याशी बड़े बड़े बैनर लगाने एवं अन्य आयोजन की बजाय घर घर जाकर संपर्क कर मतदाताओं के नाम एवं फोन नंबर लेकर सोशल मीडिया के जिरए वॉट्सएप एवं फेसबुक, वीडियो कॉल आदि के माध्यम से मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के प्रयास कर रहे हैं। सत्तारुढ़ कांग्रेस एवं भाजपा के नेता भी सोशल मीडिया के जरिए ज्यादा बयानबाजी कर रहे हैं।

-जीत के दावे अपने-अपने...बागियों की भी चुनौती

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद ङ्क्षसह डोटासरा एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनियां दोनों नेता चुनाव में अपनी-अपनी पार्टी की जीत के दावे कर रहे हैं। चुनाव में कांग्रेस एवं भाजपा के बीच ही मुख्य मुकाबला माना जा रहा है। हालांकि दोनों पार्टियों के कई बागी उम्मीदवारों के भी चुनाव मैदान में डटे रहने से कई जगहों पर मुकाबला त्रिकोणीय भी होने के आसार हैं। दोनों पार्टी के नेता बागियों को समझाने में भी लगे हैं। कई अन्य निर्दलीय प्रत्याशियों का दबादबा होने से भी मुकाबला त्रिकोणीय ज्यादा बनता नजर आ रहा हैं।

-वार्डों और उम्मीदवारों का गणित

जयपुर में जयपुर ग्रेटर के 150, जयपुर हैरिटेज के 100, जोधपुर उत्तर एवं दक्षिण में 80-80 एवं कोटा उत्तर में 70 एवं दक्षिण में 80 वार्डों में २८९२ उम्मीदवार चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इस चुनाव में 35 लाख 97 हजार 873 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। पहले चरण का चुनाव २९ अक्टूबर और दूसरे चरण का चुनाव एक नवंबर को होने के बाद मतगणना तीन नवंबर को होगी।

Show More
sanjay kaushik Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned