Mousam update: ला नीना के असर से आगामी दिनों में पड़ेगी कड़ाके की सर्दी

प्रदेशभर में दिसंबर-जनवरी में दिन के तापमान में भी होगी गिरावट

माउंट आबू का तापमान रहा सबसे कम 4 डिग्री सेल्सियस

By: SAVITA VYAS

Published: 02 Dec 2020, 12:48 PM IST

जयपुर। पहाड़ी जगहों पर हो रही बर्फबारी और ला नीना का असर आगामी दिनों में भी जारी रहेगा। इसके चलते दिसंबर-जनवरी में राजधानी जयपुर और प्रदेशभर में कड़ाके की रहेगी। मौसम विभाग ने ला नीना के प्रभाव के चलते इस बार तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना जताई है। इसका सबसे ज्यादा असर पश्चिमी राजस्थान में देखने को मिलेगा। यहां सामान्य से 1 डिग्री और पूर्वी राजस्थान में 0.52 डिग्री तापमान कम रह सकता है। आज मौसम साफ रहा।

जयपुर मौसम विभाग के प्रभारी निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि ला नीना के असर से सभी जगहों पर मौसम में तापमान में कुछ बदलाव हो रहे हैं। पश्चिमी राजस्थान में तापमान सामान्य से कम रहने की सबसे ज्यादा संभावना है। गौरतलब है कि ला नीना समुद्री प्रक्रिया है। इसमें समुद्र में पानी ठंडा होने लगता है। इसका हवाओं पर भी असर होता है। इससे मौसम में बदलाव होता है। प्रदेश में अभी से ही पारा रेकॉर्ड स्तर पर पहुंचने लगा है।

प्रमुख जगहों का तापमान
बीते 24 घंटे में मंगलवार रात को राजधानी का तापमान 12.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। तापमान में 0.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा प्रदेश के हिल स्टेशन माउंटआबू में पारा दूसरे दिन भी चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। चूरू का 7 डिग्री, श्रीगंगानगर का 10 डिग्री, अजमेर का 12 डिग्री, भीलवाड़ा का 8 डिग्री, पिलानी का 8.1 डिग्री, सीकर का 6.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं कई जिलों में दिन का तापमान चढ़ा हुआ है। जैसलमेर का 31.5 डिग्री, जोधपुर का 31.8 डिग्री, अजमेर का 30.6 डिग्री, भीलवाड़ा का 29.4 डिग्री, अलवर का 27.2 डिग्री, जयपुर का 29.5 डिग्री, सीकर का 29.5 डिग्री, पिलानी का 28.5 डिग्री, फ लौदी का 33 डिग्री, बीकानेर का 32 डिग्री, श्रीगंगानगर का 29 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक आगामी सात दिनों में दोपहर के तापमान में भी गिरावट होना शुरू होगी।

SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned