शिक्षक संगठनों की गिरदावरी के लिए प्रथम बैठक सम्पन्न

 

राज्य भर के शिक्षक संगठनों के प्रतिनिधियों ने दिए सुझाव

By: Rakhi Hajela

Published: 16 Apr 2021, 10:00 PM IST



जयपुर, 16 अप्रेल

शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा की पहल पर प्रदेशभर के शिक्षक संगठनों की गिरदावरी के लिए माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी की अध्यक्षता में शिक्षा निदेशालय बीकानेर में बैठक संपन्न हुई। इसके लिए राज्य भर के शिक्षक संगठनों के मुखिया उपस्थित हुए। जिन्होंने गिरदावरी को लेकर अपने अपने सुझाव दिए।
शिक्षक संघ एलीमेंट्री सैकेण्डरी टीचर एसोसिएशन रेसटा के प्रदेश मीडिया चेयरपर्सन धर्मेन्द्र कुमार धर्मी ने बताया कि संघ की ओर से बैठक में प्रदेशाध्यक्ष मोहरसिंह सलावद व प्रदेश कोषाध्यक्ष श्यामसुंदर विश्नोई ने भाग लिया और संगठन की मान्यता,बैंक खाता,रोकड़ पंजिका के सासि संघ के कार्यों की रिपोर्ट रखी। उन्होंने सभी संगठनों को मर्ज करते हुए शिक्षा विभाग का एक ही संघ बनाने, 10 रुपए सदस्यता शुल्क राज्य निधि में जमा कराने, सम्मेलनों का आयोजन सरकार की ओर से करवाने एवं सम्मेलनों में सभी शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य करने, संघ का खाता, कैशबुक व ऑडिट करवाने सहित कई सुझाव दिए गए। उनका कहना था कि संगठनों की गतिविधियों, आय.व्यय की पारदर्शिता एवं सदस्यता विवरण व मान्यता देने सम्बंधी गाइडलाइन जारी की जाए। इससे कागजी संगठनों पर भी प्रतिबंध लग सकेगा और शिक्षकों की समस्याओं का आसानी से समाधान भी हो सकेगा और संगठनों को विभागीय मान्यता मिलेगी।

वहीं राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के प्रदेश अध्यक्ष संपत सिंह एवं प्रदेश मंत्री रवि आचार्य ने शिक्षक संगठन को मान्यता देने के संबंध मे संगठन की ओर से प्रतिनिधित्व किया। प्रदेश मंत्री रवि आचार्य ने कहा कि संगठन का मत है कि किसी भी संगठन के मूलाधार के रूप में कार्यकर्ता, कार्यक्रम,कोष और कार्यालय . इन चार सूत्रों की पहचान कर आगे बढऩा चाहिए । उन्होंने कहा कि किसी भी संगठन द्वारा कम से कम गत 5 वर्षा का सदस्यता का विवरण,निर्वाचित प्रदेश व जिला कार्यकारणी की सूचियो, बैंक खाता विवरण, सीए की ऑडिट रिपोर्ट आदि दस्तावेज प्रस्तुत करने वाले एवं व्यवस्थित संचालन करने वाले संगठनों को ही मान्यता प्राप्त की प्रक्रिया में भाग लेने की स्वीकृति प्रदान की जानी चाहिए जिससे अगंभीर संगठनों को प्रक्रिया को बेपटरी कर दिए जाने का मौका नहीं मिल सके ।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned