जानें कैसे खाली प्लास्टिक बोतल से मिलेगा फ्री टॉकटाइम

Mridula Sharma

Publish: Jul, 14 2018 10:47:06 AM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
जानें कैसे खाली प्लास्टिक बोतल से मिलेगा फ्री टॉकटाइम

उत्तर पश्चिम रेलवे की पहल, जयपुर, जोधपुर और अजमेर रेलवे स्टेशन पर हुई शुरुआत

जयपुर. पानी पीने के बाद प्लास्टिक की खाली बोतल को अब फेंकें नहीं। प्रदेश के तीन रेलवे स्टेशन पर इन बोतल को वहां लगी प्लास्टिक बोतल रिसाइक्लिंग मशीन में डालने पर मोबाइल फोन में 10 रुपए तक का टॉक टाइम मिल सकता है। नॉर्थ-वेस्ट रेलवे मंडल ने जयपुर, जोधपुर और अजमेर रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता रखने, प्लास्टिक बोतलों के दोबारा उपयोग और ट्रैक पर गंदगी से निजात पाने के लिए यह मुहिम शुरू की है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी तरुण जैन के अनुसार रेलवे मंडल ने लगभग पांच-पांच लाख रुपए लागत की री-साइक्लिंग (बोतल क्रशर) मशीन तीनों प्रमुख रेलवे स्टेशनों लगाई है।
प्लास्टिक की खाली बोतल डालने के बाद मशीन पर लगे नंबर कीपेड पर मोबाइल नंबर दर्ज करना होता है। इसके बाद उसी मोबाइल नंबर पर मैसेज मिलेगा। इसमें एक लिंक होगा। उस पर क्लिक कर व एक ऐप डाउनलोड कर टॉक टाइम पाने के अलावा कई सुविधाएं ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि मशीनों की संख्या में बढ़ोत्तरी को लेकर भी मंडल प्रयास कर रहा है।

बनेंगे रिसाइक्लिंग आइटम्स
जानकारी के मुताबिक मशीन में बोलत क्रश करने पर वो नीचे के बॉक्स में चूरा हो जाती है। बॉक्स के भर जाने के बाद चूरा ले जाकर रिसाइक्लिंग कर प्लास्टिक के आइटम्स बनाए जाते हैं। राजस्थान से पहले यह सुविधा कई अन्य राज्यों में भी शुरू हो चुकी है। भारत के स्वच्छ भारत अभियान के तहत ही यह रेलवे ने यह पहल की है। भुवनेश्वर के रेलवे स्टेशन पर पहले से ही ऐसी मशीनें लगाई जा चुकी हैं। यह शुरुआत जनता के यहां-वहां प्लास्टिक बोतल फेंकने और बढ़ते कचरे को देखते हुए की गई है। रिसाइकल बॉटल से टायलेट केबिनेट जैसे कई प्लास्टिक के आइटम्स तैयार किए जा रहे हैं। इससे रेलवे स्टेशन को साफ सुथरा रखने में खासी मदद मिलेगी। इस पहल को नागरिक भी सराह रहे हैं। उनका मानना है कि अब लोग रेलवे स्टेशन पर कचरा यूं ही कहीं भी फेंकने की बजाय रिसाइकल मशीन में डालने को प्रेरित होंगे और इसका उन्हें फायदा भी मिलेगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned