भाजपा का छद्म और हमारा है असली राष्ट्रवादीः गहलोत

देश में आरक्षण खत्म करना चाहती है मोदी सरकारः गहलोत, एससी-एसटी आरक्षण को लेकर कांग्रेस का कलेक्ट्रेट पर धरना

जयपुर। एससी-एसटी और ओबीसी आरक्षण को लेकर घमासान तेज हो गया है। कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर सुनियोजित तरीके से देश में आरक्षण समाप्त करने का आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

इसके विरोध में कांग्रेस ने आज देशव्यापी आंदोलन किया। प्रदेश में भी सभी जिला मुख्यालयों में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। राजधानी जयपुर में भी दोपहर 12 बजे कलेक्ट्रेट सर्किल पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। धरने में प्रदेश प्रभारी अविनाश पाण्डे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिनपायलट, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सहप्रभारी विवेक बंसल, कैबिनेट मंत्री मास्टर भंवर लाल मेघवाल, रमेश मीणा, प्रताप सिंह खाचरियावास सहित कई विधायक मौजूद रहे।

धरने को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार और आरएसएस पर जमकर हमला बोला, गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार देश में आरएसएस के एजेंडे को लागू कर रही है। मोदी सरकार की नीयत साफ नहीं है, वह देश में आरक्षण की व्यवस्था को समाप्त करना चाहती है। केन्द्र सरकार की नीति और नीयत में खोट हैं और वह नोटबंदी की तरह कभी भी देश में आरक्षण व्यवस्था को खत्म करने की घोषणा कर सकती हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस संविधान निर्माता डा भीमराव अम्बेडकर के सपने को खत्म नहीं होने देगी। इसलिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी ने फैसला किया है कि देश में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग सहित अन्य वर्गों के लिए आरक्षण की रक्षा के लिए आगे आकर एकजुटता दिखाए ताकि भविष्य में आरक्षण को समाप्त करने की हिम्मत नहीं हो।


भाजपा के हिंदू राष्ट्र का सपना साकार नहीं होगा
सीएम ने गहलोत ने कहा कि आज देश को हिंदू राष्ट्र बनाने का एजेंडा चल रहा है, भाजपा को 39 फीसदी लोगों ने वोट दिया था और 61 फीसदी लोग इनके खिलाफ थे, इसके बावजूद ये संसद में बहुमत के दम पर अपनी मनमर्जी कर रहे हैं। भाजपा और आरएसएस के लोग अभी मुस्लिम के खिलाफ अभियान चलाए हुए हैं उसके बाद बौद्ध, जैन और सिख के खिलाफ अभियान चलाएंगे।


अजा-जजा के लोग हिंदू नहीं
सीएम ने कहा कि भाजपा के लोग हिंदुत्व और हिंदू राष्ट्र की बात करते हैं क्या अजा-जजा के लोग हिंदू नहीं, इनके साथ छुआछूत और भेदभाव आज भी होता है, क्या भाजपा वालों ने छुआछूत दूर करने के लिए क्या काम किया। हमारे नेताओं ने छुआछूत दूर करने के लिए काम किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में जेएनयू एवं जामिया मिलिया में क्या हुआ, पुलिस देखती रही, क्या देश में यह लोकतंत्र है। जो माहौल चह रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्य नाथ पर भी पुलिस को भड़काने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि देश में नरेन्द्र मोदी और अमित शाह दो ही लोग राज कर रहे है, देश दुखी है और धीरे धीरे भाजपा के नेता भी दुखी होते जा रहे है। उन्होंने भाजपा पर राष्ट्रवाद पर केवल चुनाव जीतने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा राष्ट्रवाद केवल छद्म राष्ट्रवाद है।

वह केवल चुनाव जीतने एवं हिन्दुओं को भड़काने के लिए इसका सहारा लेती है। उन्होंने कहा कि यहां बैठे सभी लोग असली राष्ट्रवादी है। गहलोत ने कहा कि जो केन्द्र सरकार से असहमति व्यक्त करते हैं और उसके खिलाफ बोलते हैं, वे राष्ट्रविरोधी माने जाते है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून लाया गया और एक धर्म को अलग कर दिया गया जबकि अम्बेडकर ने कहा था कि सभी जाति एवं धर्म के लोगों को समान अधिकार मिले। उन्होंने कहा कि अब केन्द्र सरकार पर लोगों का विश्वास नहीं रहा।


आरक्षण गरीबी हटाओ का प्रोग्राम नहींः पायलट
डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि आरक्षण कोई गरीबी हटाओ का प्रोग्राम नहीं है बल्कि हजारों सालों से दबे कुचले लोगों को समानता का अधिकार का प्रोग्राम है। आज लोगों के अधिकारों को बचाने के लिए केंद्र सरकार के वकील न्यायालय में मजबूती से पक्ष नहीं रखते। पायलट ने कहा कि केंद्र सरकार मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए जानबूझकर ऐसे मामले लेकर आती है।

आज रसोई गैस 140 रुपए महंगा हो गया लेकिन उस पर कोई चर्चा नहीं हो रही है। एससी-एसटी और ओबीसी आरक्षण को बचाए रखने के लिए हमें जितना भी संघर्ष करना पड़ेगा, हम पीछे नहीं हटेंगे।

 

Congress
firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned