खुशखबरी: सस्ता आटा उपलब्ध करवाएगी सरकार

जिला कलक्टर की ओर से निर्धारित की जाएगी बिक्री दर

By: SAVITA VYAS

Published: 29 Mar 2020, 08:01 PM IST

जयपुर। लॉकडाउन अवधि के दौरान जिलों में स्थापित आटा मिल चैक्की एवं रोलर फ्लोर मिल में उत्पादित आटा जरूरतमंद व्यक्तियों को उचित दर पर उपलब्ध करवाया जाएगा। दर संबंधित जिला कलेक्टर एवं जिला रसद अधिकारी निर्धारित करेंगे।
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि आटा मिल चक्की एवं रोलर फ्लोर मिल के संचालकों से निर्धारित की गई दरों पर विक्रय करने का बंध पत्र भी लिया जाएगा। महाजन ने विभाग की ओर से जारी निर्देशों की शत- प्रतिशत पालना करवाए जाने के निर्देश दिए। अगर संबंधित जिला कलक्टर को जरूरत हो तो वे आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत प्रदत की गई शक्तियों का प्रयोग करते हुए जारी किए गए निर्देशों की पालना भी करवा सकते हैं। लॉकडाउन अवधि में आईएफसी से कोई भी क्रेता कलक्टर की अनुशंसा पर निगम की ओर से निर्धारित 23 प्रति किग्रा की दर पर गेहूं प्राप्त कर सकता है।
आटा मिलों को अनुमति
लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओंं का विनिर्माण और आपूर्ति करने वाली औद्योगिक इकाइयों को अनुमति देने के लिए सरकार ने सभी जिला उद्योग केन्द्रों को निर्देश जारी किए हैं।
सबसे पहले सरकार आटा, बेसन, दाल और तेल मिलों को संचालन की अनुमति देगी। इस बारे में उद्योग विभाग के एसीएस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने शुक्रवार को निर्देश जारी किए थे।

Corona virus
SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned