राजस्थान के मंत्री ने कांग्रेस पर किया ऐसा कटाक्ष, कांग्रेस को जरूर आएगा गुस्सा

लगातार हार के बावजूद कांग्रेस में चुनाव लडऩे की उम्मीद सराहनीय- राजपाल सिंह शेखावत

By: Arvind Singh Shaktawat

Updated: 16 May 2018, 02:47 PM IST

जयपुर .
उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि वह पदाधिकारी या परिवारवाद आधारित पार्टी हैं और वह पदाधिकारियों या परिवारों से चलती हैं, लेकिन भाजपा कार्यकर्ताओं से चलने वाली पार्टी है। यहां कोई पदाधिकारी है या नहीं है, यह कम महत्वपूर्ण है। वह भाजपा का कार्यकर्ता है। यह महत्वपूर्ण है। भाजपा के कार्यकर्ता का एजेंडा तय है, उसे क्या और किस प्रकार काम करना है। इसलिए प्रदेश अध्यक्ष से ज्यादा दोबारा भाजपा की सरकार बनाने की बेताबी है। पार्टी को जब प्रदेश अध्यक्ष तय करना होगा, कर देगी।

भाजपा प्रदेश कार्यालय में मीडिया से बातचीत में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि एंटी इनकंबेंसी का फैक्टर कांग्रेस और अन्य पार्टिर्यों की सरकारों पर लागू होता है। यह फैक्टर भाजपा पर लागू नहीं होता। भाजपा और अन्य पार्टियों के बीच एक मोटा अंतर है और वह ये है कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है। जनता के साथ सतत संपर्क में रहने वाले लोगों की पार्टी है। प्रदेश में तीसरे दल की सरकार को लेकर मंत्री ने कहा कि राजस्थान के अंदर अभी तक किसी तीसरे दल की कोई सरकार नहीं बनी है। उन्होंने यह भी दावा किया कि प्रदेश में जो आज तक हुआ है वह इस बार नहीं होगा। पहले लोग भाजपा के बारे में यह चर्चा करते थे कि वह कभी पूर्ण बहुमत से सरकार नहीं बना पाएगी। अब यह भ्रम भी टूट गया है। भाजपा ने इस बार 163 सीटों के साथ रिकॉर्ड जीत दर्ज की। भाजपा जनसंघ के निर्माण से लेकर आज तक जनता के बीच जाकर के जनसमर्थन के साथ लगातार जुड़ी रही है। कांग्रेस की सराहना करता हूं कि इतनी हार झेलने के बाद भी प्रदेश में चुनाव लडऩे की उम्मीद उनमें अभी बची हुई है। दिसंबर तक भर्तियों को पूरा करने के मामले में मंत्री ने कहा कि जो टाइम प्लान सरकार ने बनाया हुआ है उसी तहत सभी भर्तियों की घोषणाओं को पूरा करना है।

जल्द होगा पुजारियों की समस्याओं का समाधान- रिणवां

देवस्थान मंत्री राजकुमार रिणवां ने मीडिया से बातचीत में बताया कि मंदिरों के लिए और उनकी जमीनों के मामले में कल यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी के साथ मीटिंग हुई है, जिसमें रिपोर्ट बनाकर मुख्यमंत्री को भेज दी गई है। उन्हें जैसे ही समय मिलेगा वह अध्ययन कर उस पर फैसला करेंगी। पुजारी परिवारों ने जो मांगें रखी हैं। उसमें कानूनी समस्याएं हैं, उन्हें किस प्रकार से हल किया जा सकता है इसको लेकर मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं। उस पर हम काम कर रहे हैं। उन्होंने जो मांगे रखी हैं, उनका समाधान कर मुख्यमंत्री को भेजे हैं। मैं समझता हूं कि दो-तीन दिन में उनकी समस्याओं का भी समाधान हो जाएगा। पुजारियों की भर्ती मामले में उन्होंने कहा कि मंत्री ने कहा कि इसमें कुछ तकनीकी समस्या आ रही है। उन समस्याओं को दूर करने के प्रयास जारी हैं।

Show More
Arvind Singh Shaktawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned