राजस्थान सीमा पर आईएसआई सक्रिय...सतर्क रहने की सलाह

राजस्थान के अतिरिक्त महानिदेशक इंटेलीजेंस ने पाकिस्तान की तरफ से सीमा पार से आने वाले कॉल ( Calls ) के संबंध में एतिहात बरतने ( To Be Cautious ) एवं किसी प्रकार की सूचनाएं बगैर पुष्टि किए नहीं मुहैया करवाने की सलाह दी है। पाकिस्तानी खुफिया ऐजेंसी आईएसआई ( Pak-ISI ) राजस्थान के सीमावर्ती इलाकों में देश की सामरिक सूचनाएं जुटाने के लिए प्रयास कर रही है। ( Jaipur News )

By: sanjay kaushik

Published: 01 Jul 2020, 12:44 AM IST

-सीमा पार से आने वाले फोन कॉल के बारे में एहतियात बरतने को कहा

-फोन कॉल, सोशल मीडिया, हनी ट्रैप से सामरिक सूचनाएं जुटाने की हिमाकत

जैसलमेर। राजस्थान के अतिरिक्त महानिदेशक इंटेलीजेंस ने राज्य के सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षक एवं जिला पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखकर पाकिस्तान की तरफ से सीमा पार से आने वाले कॉल ( Calls ) के संबंध में एतिहात बरतने ( To Be Cautious ) एवं किसी प्रकार की सूचनाएं बगैर पुष्टि किए नहीं मुहैया करवाने की सलाह दी है। सूत्रों के अनुसान वर्तमान परिस्थितियों में देश की सीमाओं पर चल रहे हालातों के मद्देनजर पाकिस्तानी खुफिया ऐजेंसी आईएसआई ( Pak-ISI ) खासकर राजस्थान के सीमावर्ती इलाकों में देश की सामरिक एवं गोपनीय सूचनाएं जुटाने के लिए लगातार जोरदार प्रयास कर रही है। ( Jaipur News )

-पत्र लिखने के दिशा-निर्देश

इसके तहत सीमा पार से आईएसआई की ओर से किए जा रहे फोन कॉल, सोशल मीडिया, हनी ट्रैप एवं अन्य तरीकों के जरिए सूचनाएं जुटाने को अत्यंत गंभीर मानते हुए पत्र लिखने के दिशा-निर्देश दिए ताकि सीमा पार से आने वाले कॉल के संबंध में कोई सामरिक सूचनाएं सीमा पार न जा सके।

-श्रीगंगानगर में लगातार कवायद

गौरतलब हैं कि गत माह श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़ रेल्वे स्टेशन एवं बीकानेर व जैसलमेर आदि इलाकों में सीमा पार पाकिस्तान से आईएसआई की ओर से लगातार कॉल कर सामरिक सूचनाएं हासिल करने की कोशिश की गई थी। सूरतगढ़ रेल्वे स्टेशन पर सेना की ट्रेनों की आवाजाही के संबंध में सूचनाएं हासिल करने की कोशिश की थी।

-हाल ही पकड़े थे तीन जासूस

हाल ही में इंटेलीजेन्स पुलिस ने बीकानेर, श्रीगंगानगर से तीन पाक जासूसों को सीमा पार गोपनीय सूचनाएं आई.एस.आई को भेजते हुये रंगे हाथों पकड़ा था। राज्य के इंटेलीजेंस के अतिरिक्त महानिदेशक ने राज्य के सभी जिला पुलिस अधीक्षको को यह एडवाइजरी जारी की है, जिसकी पुष्टि करते हुए अतिरिक्त महानिदेशक इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा ने बताया कि वर्तमान में सीमाओं पर तना-तनी का माहौल हैं ऐसे में सीमा पार पाकिस्तान आईएसआई की ओर से सीमा पार से फेक नाम से फोन कॉल कर देश की गोपनीय सामरिक सूचनाएं जुटाने की भरसक कोशिश की जा रही है।

-सुरक्षा के लिहाज से अहम

यहां यह भी उल्लेखनीय है कि सीमावर्ती जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर जिले के कई सामरिक ठिकाने देश की सुरक्षा के लिहाज से अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। यहां पर सैन्य गतिविधियां निरंतर चलती रहती हैं तथा इस कारण रेल्वे स्टेशन को भी सामरिक ²ष्टि से काफी महत्वपूर्ण माना गया है।

sanjay kaushik Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned