दिल्ली हाईवे पर हथियारों के साथ डकैती की साजिश रचते पांच गिरफ्तार, उधर सीकर हाईवे पर हैड कांस्टेबल को गोली मारने वालों का सुराग नहीं लगा


दो दिन पहले ही जोबनेर में 100-150 लड़कों के साथ एक जमीन पर कब्जा दिलवाकर गए थे आरोपी

By: Mukesh Sharma

Published: 21 Jul 2021, 05:32 PM IST

जयपुर. जयपुर ग्रामीण पुलिस ने दिल्ली हाईवे पर एक पेट्रोल पंप पर डकैती की साजिश रच रहे पांच लोगों को गिरफ्तार किया। वहीं सीकर हाईवे पर रानोली क्षेत्र में हैड कांस्टेबल मनेन्द्र सिंह को गोली मार निरीक्षक नरेन्द्र सिंह की कार लूट ले जाने वालों का बुधवार को भी सुराग नहीं लग सका। सीकर पुलिस गोली मारने वालों को तलाश रही है। जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में दो आदतन अपराधी भी शामिल हैं, जो दो दिन पहले ही जोबनेर में 100-150 लड़कों के साथ एक जमीन पर कब्जा करवाकर गए थे। पनियाला थाना प्रभारी इन्द्राज सिंह पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ करने में जुटे हैं। आरोपियों से लोडेड देशी पिस्टल, लोडेड देशी कट्टा व अन्य हथियार मिले हैं। उन्होंने बताया कि आरोपियों को परियाला स्थित नीलकंठ होटल के पीछे डकैती की साजिश रचते पकड़ा। एसपी शंकरदत्त शर्मा ने बताया कि अलवर निवासी गुरुदयाल मेघवाल, नितेश कुमार जाटव, आशिष जाटव, राहुल जाटव और नितिन जाटव को गिरफ्तार किया है। इनमें गुरुदयाल और आशिष आदतन अपराधी है।

50 हजार रुपए में जमीन पर कब्जा दिलाने आए

एसपी शर्मा ने बताया कि पूछताछ में सामने आया है कि गिरफ्तार आरोपी 19 जुलाई को पांछूडाला निवासी लालाराम राजपूत, जीतू राजपूत और बिलाली निवासी कालूराम गुर्जर से 50 हजार रुपए में सौदा तय कर जोबनेर में एक जमीन पर कब्जा दिलाने आए थे। यहां पर 100-150 लड़के पहले से मौजूद थे। कब्जा दिलाकर जाने के बाद पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की साजिश रच रहे थे। कब्जा दिलाने वाली जमीन के संबंध में भी जानकारी जुटाई जा रही है।

हत्या करने वाली गैंग से जुड़े तार

एसपी शर्मा ने बताया कि गुरुदयाल व आशिष पांछूडाला निवासी लालाराम ठाकुर गैंग से जुड़े हुए हैं और लालाराम, जीतू, कालू गुर्जर और उनके अन्य साथियों पर आरोप है कि दो माह पहले विराटनगर स्थित गोनाडी निवासी तेजराम की हत्या की थी।

Mukesh Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned