script शादी से लौट रहे कार चालक को नींद की झपकी आई, राह में फुटपाथ पर बैठे मौसी व भांजे को कुचला | jaipur | Patrika News

शादी से लौट रहे कार चालक को नींद की झपकी आई, राह में फुटपाथ पर बैठे मौसी व भांजे को कुचला

locationजयपुरPublished: Feb 07, 2024 10:34:11 pm

Submitted by:

Mukesh Sharma

खातीपुरा रोड स्थित शनि मंदिर के पास बुधवार सुबह बेकाबू हुई कार

photo_6206181808501012996_y.jpg
खातीपुरा रोड स्थित शनि मंदिर के पास बुधवार सुबह करीब 11 बजे बेकाबू हुई एक कार ने फुटपाथ पर बैठे मौसी व उसके भांजे को कुचल दिया। गंभीर हालत में मौसी व भांजे को एक अस्पताल में पहुंचाया, जहां पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं हादसे के बाद लोगों ने कार चालक को पकड़ लिया और सूचना पर पहुंची दुर्घटना थाना पश्चिम पुलिस के सुपुर्द कर दिया।
हादसे में उत्तर प्रदेश के फरूखाबाद निवासी 70 वर्षीय नासीरा बेगम और उसके भांजे उत्तर प्रदेश के कासगंज निवासी 25 वर्षीय सलामुद्दीन की मौत हो गई। परिजन ने बताया कि नासीरा, सुलामुद्दीन अन्य परिवार के साथ शनि मंदिर के पास बिरयानी का ठेला लगाते थे। मौसी-भांजा बुधवार सुबह फुटपाथ पर एक तरफ और परिवार के अन्य सदस्य दूसरी तरफ बैठे थे। तभी झोटवाड़ा की तरफ से तेज रफ्तार में आई कार मौसी व भांजे को कुचल देती है। पुलिस ने बताया कि लोगों ने कार चला रहे वैशाली नगर के राजेन्द्र नगर निवासी विनीत गोयल को पकड़ लिया था विनीत निजी काम करता है और मंगलवार रात को झोटवाड़ा में एक परिचित की शादी में गया था। अनुसंधान अधिकारी रघुनंदन ने बताया कि पूछताछ में विनीत ने बताया कि शादी में रातभर सोया नहीं था और सुबह घर लौटते समय अचानक नींद की झपकी आ गई।
दो वर्ष पहले दिल्ली से आया, एक वर्ष का बेटा भी

परिजन ने बताया कि नासीरा का परिवार कई वर्षों से जयपुर ही रह रहा है और अभी गिरधारीपुरा कच्ची बस्ती में रह रहा है। वहीं दिल्ली में रह रहा सलामुद्दीन दो वर्ष पहले ही जयपुर आया था और चांद विहारी नगर में पत्नी व एक मासूम बेटे के साथ रह रहा था। सलामुद्दीन का बेटा एक वर्ष का ही हुआ है। बिरयानी बेचकर वह परिवार का खर्चा चला रहा था।

ट्रेंडिंग वीडियो