जयपुर में आईसीयू के बाद अब एक्सरे रूम में गंदा काम, जांच के बहाने कपड़े खुलवाए, फिर की गंदी हरकत

सांगानेर स्थित मालपुरा गेट के पास एक कैथ लैब में एक्स-रे करने के बहाने महिला से छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया, पीड़िता ने कराया मामला दर्ज, पुलिस कर रही मामले की जांच

By: pushpendra shekhawat

Published: 06 Apr 2021, 11:19 PM IST

जयपुर। राजधानी के वैशाली नगर स्थित एक निजी हॉस्पिटल में आइसीयू में भर्ती महिला मरीज से बलात्कार के बाद अब एक्स—रे कराने आई महिला से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। सांगानेर स्थित मालपुरा गेट के पास एक कैथ लैब में एक्स-रे करने के बहाने महिला से छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। पीडि़त महिला ने एक्स-रे में महिला स्टाफ नहीं होने और पुरुष स्टाफ द्वारा कपड़े उतारवाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पीडि़त महिला ने रिपोर्ट में बताया कि पुरुष कर्मचारी ने एक्स-रे करने के बहाने बैड पर लिटा दिया और कपड़े उतारने के लिए कहा। कपड़े नहीं उतारने की बात कही तो अभद्रता करने लगा और कपड़े उतारने पर एक्स-रे होने की बात कही। कपड़े उतरवाने के बाद आरोपी ने अश्लील हरकत की और किसी को नहीं बताने के लिए धमकाया।

पीडि़ता ने परिवार वालों को आपबीती बताई। तब परिजन थाने पहुंचे और मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने बताया कि एक्स-रे रूम में ओमप्रकाश उर्फ कुणाल नाम पर कर्मचारी था। उसकी भूमिका की जांच की जा रही है।

जूस में नशीला पेय मिलाकर किया बलात्कार

सांगानेर थाने में एक युवती ने परिचित युवक के खिलाफ जूस में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद बलात्कार करने का मामला दर्ज करवाया गया है। पीडि़ता ने रिपोर्ट में बताया कि वह एलआइसी का काम करती है। भरतपुर निवासी परिचित युवक पीडि़ता के घर जूस लेकर आया था। जूस में नशीला पदार्थ मिला रखा था। जूस पीते ही पीडि़ता की तबीयत बिगड़ गई। आरोपी ने इस दौरान पीडि़ता से बलात्कार किया और वीडियो भी बना ली। बाद में वीडियो वायरल कर बदनाम करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें : शर्मसार: जयपुर में आइसीयू में भर्ती महिला मरीज से बलात्कार, नर्सिंगकर्मी गिरफ्तार

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned