LockDown Rajasthan में किसने कमाए 12 करोड़, जानिए

- Corona Virus Effect के बावजूद किसे मिला Good Response

By: Pawan kumar

Published: 23 Mar 2020, 06:04 PM IST

जयपुर। कोरोना वायरस के चलते प्रदेश में इस समय लॉकडाउन की स्थिति है, ऐसे माहौल में कारोबारी गतिविधियां ठप है। लेकिन जयपुर विकास प्राधिकरण ने लॉकडाउन के दौरान इ-नीलामी से 12 करोड़ रूपए जुटाए हैं।

जयपुर विकास आयुक्त टी. रविकांत ने बताया कि जयपुर विकास प्राधिकरण ने मार्च माह में ज़ोन-7, 8 और 11 के भूखंडों की ई-नीलामी से जेडीए को करीब 12 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है। ऐसी संकटकालीन परिस्थिति में भी लोगों ने जेडीए की संपत्ति में रुझान दिखाया है। जेडीसी ने बताया कि ज़ोन-7 के भूखंड की ई-नीलामी से 3.21 करोड़ रुपए, ज़ोन-8 के भूखंड की नीलामी से 4.87 करोड़ रुपए और ज़ोन-11 के भूखंड की ई-नीलामी से 3.79 करोड़ रुपए की राजस्व राशि की प्राप्ति होगी।

गौरतलब है कि जेडीए ने भी राज्य सरकार की ओर से जारी लॉकडाउन के आदेशों की पालना में 31 मार्च 2020 या आगामी आदेशों तक जेडीए द्वारा राजस्व के लिए नीलामी सभागार में की जाने वाली ऑफलाईन नीलामी स्थगित कर दी गई है। लॉकडाउन के कारण जयपुर विकास प्राधिकरण ने पृथ्वीराज नगर योजना में आयोजित होने वाले शिविर और ऑफलाइन नीलामी स्थगित कर दी है। जबकि जेडीए क्षेत्राधिकार के सभी पार्कों पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। लॉकडाउन अवधि में जेडीए की ऑनलाइन नीलामी (इ-ऑक्शन) प्रक्रिया जारी रहेगी। इ-ऑक्शन में किसी भी तरह की तकनीकी समस्या आने पर इस मोबाइल नम्बर 94133-45146 पर संपर्क किया जा सकेगा। लॉकडाउन के कारण 31 मार्च या आगामी आदेशों तक आवेदक पट्टे, नाम हस्तांतरण, लीज मुक्ति प्रमाण पत्र आदि के लिए आवेदन जेडीए वेबसाइट पर किए जा सकेंगे। 90ए, भवन मानचित्र अनुमोदन आदि के लिए राज्य सरकार की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं। जेडीए में जन सुनवाई 31 मार्च या आगामी आदेशों तक स्थगित रहेगी। लॉकडाउन के आदेशों की पालना में पृथ्वीराज नगर योजना में आयोजित किए जाने सभी शिविरों को स्थगित कर दिया गया है। साथ ही जेडीए क्षेत्राधिकार के सभी पार्को एवं उद्यानों को भी 31 मार्च अथवा आगामी आदेशों तक बंद कर दिया गया है।

Pawan kumar Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned