राजस्थान में यहां हुई झमाझम बारिश, तूफानी हवाओं ने मचाई तबाही, घनघोर घटाओं से छाया रात जैसा अंधेरा

राजस्थान में यहां हुई झमाझम बारिश, तूफानी हवाओं ने मचाई तबाही, घनघोर घटाओं से छाया रात जैसा अंधेरा

kamlesh sharma | Updated: 12 Sep 2019, 08:25:17 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Rajasthan Weather Forecast Today 12 september: प्रदेश में हाड़ौती और बांसवाड़ा में तेज हवा के साथ बारिश हुई। वहीं राजधानी जयपुर में सुबह से तेज धूप, उमस और गर्मी से लोग परेशान रहे। जयपुर का अधिकतम तापमान 37.2 व न्यूनतम 28.7 डिग्री सेल्सियस रहा।

जयपुर। प्रदेश में हाड़ौती, बांसवाड़ा और सवाईमाधोपुर में झमाझम बारिश हुई। वहीं राजधानी जयपुर में सुबह से तेज धूप, उमस और गर्मी से लोग परेशान रहे। हालांकि दोपहर बाद आसमान में बादल छाए जिससे थोड़ी राहत मिली। जयपुर का अधिकतम तापमान 37.2 व न्यूनतम 28.7 डिग्री सेल्सियस रहा। श्रीगंगानगर में पारा 42.2, चूरू में 42.1 और बीकानेर का तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

कोटा में शाम को तूफानी हवा के साथ बारिश ने तबाही मचा दी। दर्जनों पेड़ धराशायी हो गए। अनंत चतुर्दशी जुलूस मार्ग में कैथूनीपोल में बनाया गया सबसे बड़ा स्वागत द्वार भी गिर गया। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। दो जने घायल हुए हैं। घनघोर घटाओं के कारण शहर में रात जैसा अंधेरा छा गया। तेज हवा के साथ करीब बीस मिनट भारी बारिश का दौर चला। बिजली तंत्र गड़बड़ा गया। कुछ जगह तार टूट गए।

मौसम विभाग के अनुसार हवाएं 25 से 30 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलीं। सांगोद, सीमल्या, सुल्तानपुर, अरण्डखेड़ा, अयाना, इटावा सहित जिलेभर में बारिश हुई। कोटा का अधिकतम तापमान 32.2 व न्यूनतम 23.7 डिग्री रहा। दोपहर 41 मिमी बारिश हुई।

कोटा बैराज के 12 गेट खोले
मध्यप्रदेश में गुरुवार को भी भारी बारिश का दौर रहने से गांधी सागर में पानी की लगातार आवक हो रही है। इस कारण बांध से तीन लाख क्यूसेक पानी की निकासी की गई। राणा प्रताप सागर बांध के सात गेट खोलकर दो लाख 15 हजार क्यूसेक तथा जवाहर सागर से दो लाख 38 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। कोटा बैराज के 12 गेट खोलकर दो लाख 15 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है।

नाले में बालक बहा, मौत
झालावाड़ जिले में पिछले 24 घंटे से बारिश का दौर चल रहा है। दोपहर बाद मूसलादार बारिश हुई। जिले के झालावाड़ में 28, झालरापाटन में 30, असनावर में 85, बकानी में 83, पिड़ावा में 18, पचपहाड़ में 46, गंगधार में 42, डग में 36, अकलेरा में 44, मनोहरथाना में 12, खानपुर में 70, सुनेल में 15 एमएम बारिश हुई। शहर में बहते नाले में बहने से एक बालक की मौत हो गई है। इधर, बूंदी सहित कई जगहों पर शाम चार बजे के बाद तेज बारिश हुई। बारां में दोपहर बाद करीब 20 मिनट तक आंधी के साथ हुई तेज बारिश ने उमस को धो डाला।

बांसवाड़ा के अरथूना में 70 मिमी वर्षा
बांसवाड़ा जिले में पिछले दिनों से हो रही वर्षा का दौर गुरूवार सुबह तक जारी रहा। इसके चलते पिछले 24 घंटों में सर्वाधिक 70 मिमी. वर्षा अरथूना में दर्ज की गई।

एक घंटे तक झमाझम बारिश
सवाईमाधोपुर. दिनभर उमस व गर्मी की मार झेल रहे लोगों को गुरुवार शाम को एक घंटे तक झमाझम बारिश होने से राहत मिली। अपराह्न साढ़े तीन बजे से रिमझिम के बाद तेज बारिश शुरू हुई। जिला कलक्ट्रेट कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय पर सर्वाधिक 51 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned