घरों में सादगी से मनाया महावीर स्वामी का जन्मकल्याणक महोत्सव

mahaveer jayanti mahotsav 2020: जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का 2619वां जन्म कल्याणक महोत्सव जैन धर्मावलम्बी आज भक्ति भाव के साथ मना रहे है। लॉकडाउन के चलते इस बार जैन मंदिरों में जन्माभिषेक, पूजा-अर्चना व महाआरती जैसे सामूहिक आयोजन नहीं हुए। जैन संतों के आह्वान पर व सरकार की ओर से जारी एडवाजरी का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंस रख कर घरों में ही पूजा-अर्चना की।

By: Devendra Singh

Updated: 06 Apr 2020, 10:54 PM IST

जयपुर। जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का 2619वां जन्म कल्याणक महोत्सव जैन धर्मावलम्बी आज भक्ति भाव के साथ मना रहे है। लॉकडाउन के चलते इस बार जैन मंदिरों में जन्माभिषेक, पूजा-अर्चना व महाआरती जैसे सामूहिक आयोजन नहीं हुए। जैन संतों के आह्वान पर व सरकार की ओर से जारी एडवाजरी का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंस रख कर घरों में ही पूजा-अर्चना की। लॉकडाउन के कारण इस बार महावीर उद्यान से निकलने वाली प्रभातफेरी और शोभायात्रा भी नहीं निकली और ना ही रामलीला मैदान में धर्मसभा का आयोजन हो सका।

घरों में मना महावीर जयंती का उत्सव

महावीर जयंती पर सुबह घर की बालिकाओं व महिलाओं मिलकर घर के बाहर रंगोली बनाई और उस दीपक रख कर प्रज्ज्वलित किए। इस बार रंगोली से भगवान महावीर के संदेश देने के साथ कोरोना अवेरनेस के संदेश भी दिए गए। गांधी नगर निवासी अदिति जैन व कनिका जैन ने बताया कि रंगोली बनाकर महावीर स्वामी का जियो और जीने दो जीने दो का संदेश देने के साथ ही उन्होंने रंगोली में स्टे होम, स्टे सेफ का संदेश देकर कोरोना से बचाव के लिए लोगों को घरों में ही रहने की अपील की।

लोगों ने घर में चौकी पर महावीर स्वामी की तस्वीर विराजमान कर उसके चारों ओर रंगोली बनाकर उस पर एक कलश स्थापित करने के बाद दीपक जलाकर महावीराष्टक या महावीर चालीसा का पाठ कर अष्ट द्रव्य से पूजा की। पूजा के बाद लोगों ने घर की छत पर व बरामदों में खड़े होकर ताली और थाली बजाने के साथ भगवान महावीर की जय-जयकार से आस-पास के क्षेत्र को गुंजायमान कर दिया। इसके चलते जैन बाहुल्य क्षेत्रों में उत्सवी माहौल नजर आया। भगवान के अभिषेक, शांतिधारा के बाद भगवान महावीर की अष्ट द्रव्य से भक्तिभाव से पूजा अर्चना की। राजस्थान जैन युवा महासभा के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप जैन ने बताया कि शाम 6 बजे घरों में आरती के बाद भक्तामर स्तोत्र अनुष्ठान, भजन संध्या आदि कार्यक्रम हुए।

Corona virus
Devendra Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned