45 मिनट जयपुर पर पड़े भारी, अंधड़ में उड़ी राजधानी, दीवार गिरी, सौ से ज्यादा खम्भे टूटे, पेड़ गिरे, आज भी अंधड़ की चेतावनी

45 मिनट जयपुर पर पड़े भारी, अंधड़ में उड़ी राजधानी, दीवार गिरी, सौ से ज्यादा खम्भे टूटे, पेड़ गिरे, आज भी अंधड़ की चेतावनी

Dinesh Saini | Publish: May, 18 2019 07:10:00 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

मकान की दीवार पड़ोसी की छत पर गिर गई। इससे तीन-चार कमरे क्षतिग्रस्त हो गए...

जयपुर।

प्रदेश में शुक्रवार को फिर मौसम बदल गया। सुबह से गर्मी के बीच शाम को धूंलभरी आंधी ( Dust Storm In Jaipur ) शुरू हो गई। पूर्वी और पश्विमी राजस्थान के कई जिलों में करीब 50 किमी की रफ्तार से अंधड़ के साथ कई जिलों में बारिश और ओले गिरे। इससे बिजली के पोल और पेड़ उखड़ गए। वहीं तापमान में गिरावट दर्ज हुई जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली। प्रदेश के कई जिलों आंधी के साथ बारिश और ओले गिरे। शनिवार को भी अंधड़ और बारिश की संभावना है। राजधानी जयपुर में 45 मिनट तक 64 किमी की रफ्तार से हवा चलीं।

 

अन्य जिलों से जयपुर में ज्यादा तेज आया अंधड़ ( Dust Storm In Rajasthan )
मौसम विभाग की मानें तो जयपुर में अंधड़ की रफ्तार अन्य जिलों से सर्वाधिक थी। अन्य जिलों में यह 55 किमी तक रफ्तार से गुजरा। जयपुर में 6.30 बजे तक अंधड़ रहा। शहर में सी-स्कीम, गोपालपुरा, प्रतापनगर में पेड़ उखड़ गए। बगरू, कालाडेरा में भी पेड़ उखड़ गए और बिजली के खम्भे गिर गए। कालवाड़ रोड पर बिजली की लाइन गिर गई। बाद में अंधड़ अलवर, भरतपुर की ओर निकल गया। मौसम विभाग ने शनिवार के लिए भी अलर्ट जारी किया है।

सौ से अधिक खम्भे टूटे, लाइनें क्षतिग्रस्त, कई जगह बिजली गुल
अंधड़ के दौरान शहर में 18 फीडर बंद हो गए। ग्यारह केवी लाइनें क्षतिग्रस्त होने से कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई। बाहरी इलाकों में 100 से ज्यादा पोल टूटने से आधी रात बाद तक भी बिजली बहाल नहीं हो पाई। शहर में सांगानेर, प्रतापनगर, मानसरोवर, न्यू सांगानेर रोड, मोहनपुरा, रामपुरा, पृथ्वीराज नगर, अजमेर रोड सहित कई इलाकों में कई घंटे बिजली आपूर्ति बंद रही। प्रतापनगर में लोहे की चद्दर उडकऱ गिर गई, जिससे 11 केवी लाइन क्षतिग्रस्त हो गई। मानसरोवर में पेड़ गिरने से लाइन टूट गई, जहां देर रात को आपूर्ति शुरू हो सकी। इस बीच ट्रिपिंग की शिकायतें आती रहीं। कालवाड़ रोड, कालाडेरा, जालसू, कोटखावदा, सिरसी रोड, सीकर रोड, बगरू, शाहपुरा, शिवदासपुरा, कानोता सहित अन्य ग्रामीण क्षेत्रों में 11 व 33 केवी के 100 से ज्यादा पोल टूट-उखड़ गए। इससे लाइनें क्षतिग्रस्त हो गईं।

निर्माणाधीन दीवार गिरी
तेज आंधी से मानसरोवर में मांग्यावास रोड स्थित तिरुपति विस्तार में निर्माणाधीन मकान की दीवार पड़ोसी की छत पर गिर गई। इससे तीन-चार कमरे क्षतिग्रस्त हो गए। तब कमरों में कोई नहीं था। पीडि़त शिव नारायण अग्रवाल ने बताया कि चार मंजिला मकान का निर्माण चल रहा है। इसमें फ्लैट बनाए जा रहे हैं। जिस दीवार को बनाया जा रहा था, वो आंधी की वजह से छत पर आकर गिरी।


2 घंटे में 11 डिग्री गिर गया पारा, दिन में ही छा गया अंधेरा
कई स्थानों पर अंधड़-बारिश के बीच शुक्रवार को जयपुर में शाम 5.45 बजे 64 किमी की रफ्तार से अंधड़ चला। करीब 45 मिनट तक अंधड़ के दौरान कई जगह टिन-टप्पर उड़ गए। दिन में ही अंधेरा छा गया। बूंदाबांदी भी हुई और तापमान गिर गया। शाम 7 बजे पारा 26.7 डिग्री दर्ज हुआ जबकि शुक्रवार को अधिकतम तापमान 37.8 डिग्री रहा। यानी 2 घंटे में 11 डिग्री गिरावट दर्ज की गई।

अचानक धूल का गुबार
जयपुर में शाम 5 बजे तक मौसम साफ रहा। शाम 5.45 बजे अंधड़ के साथ धूल का गुबार छा गया। वाहन चालकों को दिन में ही लाइट जलानी पड़ीं। मौसम विभाग के निदेशक शिवगणेश के अनुसार गर्मी में पश्चिमी हवाएं पूर्व की ओर से चलती हैं। हवा में घुमाव से वायुमंडल अस्थिरता हो जाती है और अरब सागर से नमी मिलने पर बारिश होने लगती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned