scriptOmicron growing three times faster | Omicron Latest News: तीन गुना तेजी से फैल रहा ओमिक्रॉन | Patrika News

Omicron Latest News: तीन गुना तेजी से फैल रहा ओमिक्रॉन

Omicron Latest News:

— पांच दिनों में तीगुने हो रहे मरीज
— वैक्सीन की इम्युनिटी का भी तोड़ रहा वेरिएंट
— कब खतरनाक हो, पता नहीं!

जयपुर

Published: December 31, 2021 05:25:56 pm

Omicron Latest News:

ओमिक्रॉन वेरिएंट की संक्रमण दर राज्य में छह दिनों में तीन गुना बढ़ चुकी है। यह डेल्टा वेरिएंट से दोगुनी रफ्तार से फैल रहा है। 24 दिसंबर को इसकी पॉजिटिविटी रेट .08 थी यानी दस हजार पर 8 मरीज संक्रमित हो रहे थे, वहीं अब इसकी पॉजिटिविटी रेड .22 हो चुकी है। यानी छह दिनों में यह 3 गुना बढ़ गई। अब तक राज्य में 69 ओमिक्रॉन मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। जबकि दो दिनों में ही कोरोना संक्रमण अपने खतरनाक स्तर पर पहुंच चुका है।
Omicron growing three times faster
Omicron growing three times faster
डेल्टा से ऐसे अलग हैं लक्षण
कोरोना की दूसरी लहर में डेल्टा वेरिएंट के संक्रमण में लोगों में सांस फूलना और खांसी मुख्य लक्षण के रूप में थे। वहीं ओमिक्रॉन संक्रमण में नाक में खुजली रहना, पानी आना, गले में खराश मुख्य लक्षण हैं। इसमें सांस फूलने जैसे लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं।

तोड़ रहा है इम्युनिटी
भले ही ओमिक्रॉन को लेकर विशेषज्ञ इसे माइल्ड संक्रमण कह रहे हों, लेकिन यह हर तरह की इम्युनिटी को तोड़कर संक्रमित कर रहा है। पहली लहर में जो लोग संक्रमित हुए थे, उनमें इम्युनिटी हर्ड हुई थी। दूसरी लहर में ऐसे कम लोग संक्रमित हुए थे, जो पहली लहर में संक्रमित हो चुके थे। जबकि ओमिक्रॉन वेरिएंट पहले से संक्रमित होकर ठीक हो चुके मरीजों के साथ ही दोनों डोज वैक्सीन ले चुके लोगों की इम्युनिटी को तोड़ने में भी सफल हो रहा है। हालांकि यह दो से तीन दिनों में ठीक भी हो रहा है, लेकिन इसके पोस्ट कोविड प्रभाव क्या रहेंगे, यह अभी सामने नहीं आया है।
इन देशों में ओमिक्रॉन खतरनाक
ओमिक्रॉन वेरिएंट को दुनियाभर के कई देशों में मामूली संक्रमण जैसा ही माना गया है। लेकिन यूरोप के देशों में इंग्लैंड को छोड़कर अन्य में यह खतरनाक रूप में सामने आया और वहां से डेल्मीक्रॉन कहा गया है। यह डेल्टा की तरह बुरा प्रभाव छोड़ रहा है। फ्रांस, जर्मनी में इसके बुरे प्रभाव देखने को मिल रहे हैं।
यह रखें खयाल
— डबल मास्क लगाएं, यह संक्रमण से 90 प्रतिशत बचाता है
— वैक्सीन की दोनों डोज लें
— सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें
— सांस फूलने वाली गतिविधियों से बचें

इनका कहना है
अभी तक यह माइल्ड ही है, लेकिन यह कब खतरनाक रूप ले ले, कहा नहीं जा सकता। कई यूरोपीय देशों में इसका प्रभाव खतरनाक स्तर पर है। इसकी पॉजिटिविटी रेट भी डेल्टा की तुलना में ज्यादा है।
डॉ. वीरेंद्र सिंह, कोरोना महामारी के लिए मुख्यमंत्री सलाहकार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.