Potato: आलू के थोक भाव एक महीने में 81 फीसदी टूटे

आलू के दाम ( Potato prices ) में बीते एक महीने में 81 फीसदी तक की गिरावट आई है। आलू का थोक भाव ( wholesale price of potato ) टूटकर दस से बारह रुपए प्रति किलो पर आ गया, जोकि एक महीने पहले 20 से 22 रुपए प्रति किलो था। हालांकि यह मंडी में आलू के थोक भाव का निचला स्तर है, लेकिन थोक भाव के ऊपरी स्तर में भी 50 फीसदी की गिरावट आई है। एक महीने पहले जहां आलू (Potato ) का खुदरा भाव 45 से 50 रुपए किलो था, वहीं शुक्रवार ( onion price ) को 20 से 22 रुपए प्रति किलो दर्ज किया गया।

By: Narendra Kumar Solanki

Published: 18 Dec 2020, 01:50 PM IST

जयपुर। आलू के दाम में बीते एक महीने में 81 फीसदी तक की गिरावट आई है। आलू का थोक भाव टूटकर दस से बारह रुपए प्रति किलो पर आ गया, जोकि एक महीने पहले 20 से 22 रुपए प्रति किलो था। हालांकि यह मंडी में आलू के थोक भाव का निचला स्तर है, लेकिन थोक भाव के ऊपरी स्तर में भी 50 फीसदी की गिरावट आई है। एक महीने पहले जहां आलू का खुदरा भाव 45 से 50 रुपए किलो था, वहीं शुक्रवार को 20 से 22 रुपए प्रति किलो दर्ज किया गया। औसत भाव की बात करें तो इसमें बीते एक महीने में 66 फीसदी की गिरावट आई है। मंडी के कारोबारियों ने बताया कि इस समय आलू की आवक ज्यादातर पंजाब और हिमाचल प्रदेश से हो रही है।
बता दें कि आलू का दाम दिवाली से पहले आसमान चढ़ गया था और केंद्र सरकार ने आलू के दाम को नियंत्रण में रखने के लिए केंद्र सरकार ने अक्टूबर में 10 फीसदी आयात शुल्क पर 10 लाख टन आलू आयात करने की अनुमति देने का फैसला लिया, जबकि आलू पर आयात शुल्क 30 फीसदी है।
प्याज की कीमतों में गिरावट का दौर शुरू
प्याज के खुदरा भाव ७० से ८० रुपए तक पहुंचने के बाद गुरुवार को जयपुर में इसके भाव आधे से भी कम ३० रुपए किलो पर आ गए। व्यापारियों के अनुसार जल्द ही कुछ दिनों में यह भाव १५ से २० रुपए प्रति किलो तक भी आ सकते है। मुहाना आलू आड़तिया संघ के पूर्व अध्यक्ष दयानंद मेघनानी ने बताया कि झालावाड़, अलवर, एमपी से नए प्याज की आवक शुरू हो चुकी है। मंडियों में अभी ३५ ट्रक प्याज की आवक हो रही है, जोकि वर्तमान में मांग की तुलना में ज्यादा है, क्योंकि लॉकडाउन के चलते अधिकांश रेस्टोरेंट और ढाबे आठ बजे ही बंद हो जाते है और कोरोना के कारण लोगों ने भी अभी इन से परहेज कर रखा है। मेघनानी ने बताया कि जनवरी में महाराष्ट्र और गुजरात से भी नए प्याज की आवक शुरू हो जाएगी, जिससे अब प्याज के दामों में तेजी का दौर खत्म हो गया है। मुहाना मंडी में अभी प्याज के थोक दाम १८ से २३ रुपए प्रति किलो बोले जा रहे है। थोक भावों में पांच से दस रुपए प्रति किलोग्राम की और गिरावट आएगी, जिससे खुदरा बाजार में ३० रुपए किलो बिकने वाला प्याज जल्द ही १५ से २० रुपए प्रति किलो के बीच आ जाएगा। इसी तरह आलू की नई फसल की आवक भी शुरू हो गई है, जिससे इसके दामों में भी जल्द ही बड़ी गिरावट देखने को मिलेगी।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned