भाजपा मुख्यालय पर शुरू हुई जनसुनवाई

प्रदेश में तीन सीटों पर उपचुनाव और एक महीने से ज्यादा चले विधानसभा सत्र के बाद भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर सियासी हलचलें फिर से शुरू हो गई हैं...

By: Anil Chauchan

Published: 13 Mar 2018, 07:15 PM IST

जयपुर
प्रदेश में तीन सीटों पर उपचुनाव और एक महीने से ज्यादा चले विधानसभा सत्र के बाद भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर सियासी हलचलें फिर से शुरू हो गई हैं। भाजपा मुख्यालय पर दो महीने बाद मंत्रियों की जनसुनवाई शुरू हुई। मंगलवार को जनसुनवाई में कई कार्यकर्ताओं ने अपनी विभिन्न समस्याएं बताते हुए क्षेत्र में काम नहीं होने का आरोप लगाया और विरोध जताया।


असल में बीते दो महीने से भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर जनसुनवाई नहीं हो रही थी। उपचुनाव, विधानसभा और हाल ही राज्यसभा के उम्मीदवारों की ओर से पर्चा दाखिल करने के बाद अब फिर से भाजपा मुख्यालय में जनसुनवाई शुरू हुई है। पिछले दिनों मंत्री अपने सरकारी बंगलों पर ही जनसुनवाई कर रहे थे। अब आगे छह माह से पहले कोई बड़ा टास्क नहीं होने से मंत्री फिर से जनसुनवाई में जुटे हैं, जिससे आगामी विधान सभा चुनाव से पहले उपचुनाव में रूठे कार्यकर्ताओं और आम जनता को खुश किया जा सके। मंत्रियों की जनसुनवाई में ज्यादातर परिवेदनाएं तबादलों से जुड़ी होती हैं, लेकिन दूर दराज के लोग भी सरकारी कार्यालयों संबधी अपनी समस्याओं के समाधान के लिए जनसुनवाई में आते हैं।


भाजपा मुख्यालय पर मंगलवार को ऊर्जा राज्य मंत्री पुष्पेंद्र सिंह ने जनसुनाई की। जब उनसे पूछा गया कि गर्मियों का मौसम है और आए दिन ट्रिपिंग हो रही है और इसी दौरान इंजीनियरों व तकनीक कर्मियों के तबादले होंगे तो मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रतिबंध हटा है। तबादले होंगे लेकिन इससे विद्युत व्यवस्था पर कोई असर नहीं पड़ेगा।


अब हर रोज बैठकें कर बनाई जाएगी चुनावी रणनीति
राजस्थान भाजपा पूरी तरह से चुनावी मोड पर आ गई है। प्रदेश मुख्यालय पर अब मंत्री समूह की मैराथन बैठकों का दौर शुरू हो गया है। मंगलवार को भी कई मंत्रियों ने बैठक कर उपचुनावों में हुई हार और आगामी विधानसभा चुनावों पर चर्चा की। बैठक में मुख्य रूप से उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, पंचायतराज मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़, कृषि मंत्री प्रभूलाल सैनी, जल संसाधन मंत्री रामप्रताप मौजूद रहे। बैठक के बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने पत्रकारों को बताया कि इस तरह बैठकों का निरंतर दौर जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि अब विधानसभा चुनाव में आठ महीने का वक्त बचा है, इसलिए सत्ता और संगठन दोनों में किस तरह तालमेल रहे और साथ ही मिशन 180 और मिशन 25 को किस तरह पूरा किया जाए। इन मुद्दों को लेकर यह बैठक निरंतर आयोजित होगी।
परनामी ने यह भी बताया कि जल्द ही प्रदेश संगठन के खाली पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी। कांग्रेस पार्टी की पूरे देश में व्यक्तिगत पहचान खत्म हो गई है और भारत जल्द ही कांग्रेस मुक्त होने वाला है। उन्होंने कहा कि राजस्थान भाजपा के लिए यह खुशी की बात है कि यहां की सभी दस राज्यसभा सीटें भाजपा के पास है।

BJP
Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned